मकान मालकिन की कुंवारी बेटी को चोदा और किराए के पैसे वसूल किये | कुंवारी बेटी की चुदाई की कहानी भाग 4

मकान मालकिन की कुंवारी बेटी को चोदा और किराए के पैसे वसूल किये | कुंवारी बेटी की चुदाई की कहानी भाग 4

Wildfantasy के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार

मैं आपका अपना मोहित एक बार फिर से हाजिर हूं मकान मालकिन की कुंवारी बेटी की चुदाई की कहानी भाग 4 में

जैसा कि आपने भाग 3 में पड़ा होगा किस तरीके से कुत्ते कुत्तिया की चुदाई देखकर मकान मालकिन की छोटी बेटी आशिका की चुत में कुछ हलचल होने लगी थी

आगे की कहानी मकान मालकिन की कुंवारी बेटी की चुदाई की कहानी भाग 4 में आइए पढ़ते हैं साथ में उम्मीद है आपको मेरी यह कहानियां पसंद आ रही होगी। 

आशिका कुत्ते कुतिया की Desi Chudai देख रही थी

आशिका ने मोहित के कान में धीरे से कहा मोहित मेरी चुत में कुछ अजीब सा हो रहा है

तुम देखोगे क्या तो मोहित ने कहा दिखाओ मैं देखता हूं

फिर आशिका बोली पर तुम किसी को मत बोलना खासकर मेरी मां को तो कुछ मत बताना वह बहुत कठोर है

अगर उन्हें कुछ पता लगा तो मेरी हड्डी पसली एक कर देगी मोहित ने कहा हां हां मैं किसी को कुछ नहीं बताऊंगा मोहित बोलै दिखाओ कहां पर हो रहा है

फिर मोहित ने आशिका की शॉट्स उतारी और देखता ही रह गया आशिका की चुत ने पानी छोड़ दिया था

पर आशिका को इसका जरा सा भी आभास नहीं था

फिर मोहित ने कहा यहां से तो आशिका कुछ पता नहीं चल रहा क्या मैं तुम्हारी पैंटी भी उतार दूं आशिका बोली अगर जरूरत है

तो उतार दो जब मोहित ने यह सुना तो मोहित का लंड कच्छे में ही तन गया था

और उसको शहनाज की Pink Pussy की याद आ गई थी

पर आशिका बोली मोहित क्या सोच रहे हो जल्दी देखो मुझे कुछ अजीब सा हो रहा है

मोहित ने यह सुनकर फटाक से आशिका की कच्ची खींच भी और मोहित उसकी चुत को घूरने लगा मोहित मनी मन में यह सोच रहा था

कि इतनी Tight Chut किसी की कैसी हो सकती है

चोट से टपकता हुआ रस देखकर मोहित के अंदर की Antarvasna बाहर आ रही थी

उसे आशिका की चुत की खुशबू से कुछ हो रहा था मोहित का मन बोला आशिका 12वीं कक्षा में पढ़ती है

मुझसे सेक्स के बारे में तो सब कुछ पता होगा पर आशिका मुझे अपनी चुत क्यों दिखा रही है

उसके मन का शैतान बोला वह तुझे कितना चाहती है

मोहित के मन का अच्छा इंसान बोला क्या पता वह भोली हो।
उसे इस बारे में कुछ ना पता हो वह सिर्फ अपनी चुत में होने वाली हलचल को चेक कराना चाहती हो फिर शैतान बोला नहीं नहीं ऐसा कुछ नहीं वह तुझे जो देना चाहती है 

क्या पता अपनी चूत चुदाई करना चाहती हो

उसकी चुत में पानी ऐसे ही नहीं छोड़ा वह तेरे लंड पर लगी आग को बुझाना चाहती है मोहित यह सोच ही रहा था

कि मोहित यह सोच ही रहा था

कि इतने में आशिका बोली ओए मोहित क्या हुआ सो गए क्या जल्दी से देखो क्या हुआ है

मुझे ऐसा लग रहा है अंदर कुछ मचल रहा है

मोहित बोला हां हां रुको देखता हूं फिर मोहित ने आशिका की चुत की फाके खोली। तो उसने देखा कि उसकी चुत अंदर से पूरी गुलाबी थी।

मोहित को तो जन्नत के दर्शन ही गए हो।

मोहित ने कहा की आशिका यहां से तो कुछ पता नहीं चल रहा है।

क्या मैं उंगली डालकर चेक करूं आशिका बोली हां हां जो तुम्हें करना है

वह करो पर जल्दी करो इतने में मोहित बोला हां हां ठीक है। 

फिर मोहित ने अपनी उंगली आशिका की चुत में हल्की हल्की डालना चालू कि जैसे ही आशिका की चुत में उंगली गई।

आशिका की तो अहह अहह मोहित अहह ही निकल गई।

आशिका का शरीर मानो पूरा काँप सा गया था 

मानो जैसे आशिका की चुत में उंगली नहीं किसी का मोटा लंड चला गया हो।

मोहित को यह एहसास हो रहा था कि आशिका वर्जिन है।

उसने आज तक कभी सेक्स नहीं किया है वह पहली बार सेक्स करेगी।

आशिका की चुत की सील उसको अपनी उंगलियों पर महसूस हो रही थी

उसने थोड़ी देर चुत में उंगली को आगे-पीछे किया तो।

आशिका बोली मोहित यह क्या कर रहे हो।

बेशर्म मैंने तुम्हें सिर्फ देखने को कहा है

तुम मजे लेने लगे क्या ?

मोहित बोला नहीं आशिका तुम गलत समझ रही हो।

जैसे कभी कबार लड़कियों की चुत में खुजली होती है तो ऐसे करने से वह खुजली मिट जाती है

आशिका बोली अच्छा सॉरी मोहित मुझे पता नहीं था

अच्छे से करो मुझे अब तेज खुजली हो रही है

मोहित यह सुनकर उसकी चुत में तेज तेज उंगली करने लगा।

उंगली करते-करते आशिका का शरीर फिर से कांपने लगा था।

आशिका की चुत में पानी छोड़ ही दिया था।

बस थोड़ी देर और उंगली करना बाकी था।

आशिका ने एकदम से मोहित कहा झटक दिया और बोली बस अब मेरी खुजली खत्म हो गई है

अब तुम उंगली निकाल लो।

मोहित के लंड ने भी पानी छोड़ दिया था।

मोहित की ठरक चरम पर पहुंच गई थी।

वह आशिका को चोदना चाहता था।

पर आशिका छोटी थी।

बस यही सोच के मोहित ने आशिका को जाने दिया पर जाते-जाते आशिका ने मोहित से कहा मुझे बहुत अच्छा लगा थैंक यू। 

मोहित थैंक यू  तुमने मेरी हेल्प की। 

मोहित एकदम से बोला आशिका अपनी मम्मी को कुछ मत बताना।

इसके बारे में आशिका बोली क्यों मोहित बोला Pussy Fingering एक गंदी चीज है।

आशिका बोली हां हां मोहित ठीक है।

मै किसी को कुछ नहीं बताऊंगी आज के बारे में फिर आशिका जाने लगी ही थी।

मोहित आशिका की चुत के सपनों में खो ही गया था।

आशिका जैसे ही अपने कमरे में पहुंची तो वह सीधा अपने कमरे के बाथरूम में चली गई और मोहित के नाम की छूट में उंगली करने लगी।

आशिका मोहित का लंड लेना चाहती थी पर मोहित को बोल नहीं पा रही थी।

आशिका ने सोचा मोहित कितना चुटिया आदमी है।

एक लड़की अपनी चुत खोल कर खड़ी थी

फिर भी बस उंगली कर रहा था।

इतना भी ना हो सका की चुत में लंड डालकर थोड़ा सा आगे पीछे ही कर ले।

मोहित : काश मैं आशिका की वर्जिन चुत का स्वाद ले पाता मोहित मन ही मन यह सोच रहा था।

कि मुझे एक 19 साल की लड़की की चुत मारने का मौका मिला था।

पर मैं उसे मार नहीं पाया आशिका की Tight Chut में मेरा लौड़ा कितना अच्छा लगता।

आशिका के मुंह से चीखे कितनी प्यारी लगती आशिका धीरे-धीरे चिल्लाती।

नहीं मोहित बस अब मत करो मुझे बहुत दर्द हो रहा है

पर मैं आशिका को समझा था

उसे प्यार प्यार से चोदता। उसकी Gand Chudai भी कर पता।

दोस्तों मैं उम्मीद करता हूं आपको यह कहानी पसंद आ रही होगी बाकी की कहानी अगले भाग में आज के लिए बस इतना ही।
यदि आपको कोई सुझाव देना हो तो नीचे दिए गए ईमेल आईडी पर आप अपना सुझाव ऐप कमेंट भेज सकते हैं [email protected]

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds

Saale Copy Karega to DMCA Maar Dunga