दोस्त की बड़ी बहन की बुर चुदाई की कहानी | Behan Ki Chudai

दोस्त की बड़ी बहन की बुर चुदाई की कहानी | Behan Ki Chudai

Wildfantasy.in के पाठकों को मेरा नमस्कार

आज की रितु जी की कहानी देव की जुबानी धन्यवाद रितु जी आपने मुझे यह मौका दिया।

यह कहानी आज से 2 साल पहले हुई सच्ची घटना पर आधारित है उम्मीद है आपको मेरी कहानी पसंद आएगी

Dost Ki Behan Ki Chudai की कहानी में पढ़ें कि मेरे दोस्त की मंझली बहन से मेरा टांका भिड़ा था, मैं उसे चोदता था. लेकिन उसी बड़ी बहन की शादी की पहली रात को वही बड़ी बहन मेरे लंड से चुद गयी.

मेरा नाम देव है, मैं Bangalore के Jaya Nagar जिले का रहने वाला हूँ।
मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ।

आइए मैं आपको अपने बारे में कुछ बताऊं.
मेरी उम्र 21 साल है, मेरी हाइट 5.5 फीट है, वजन 60 किलो है, मैं बहुत हैंडसम हूं.

यह Dost Ki Behan Ki Chudai की कहानी मेरे दोस्त रोहित और उसकी बहनों के साथ मेरे रिश्ते के बारे में है।
रोहित और मैं बचपन से दोस्त हैं.

रोहित की तीन बहनें हैं।
बड़ी बहन का नाम रिया है, वो 24 साल की है और दिखने में बेहद खूबसूरत है.

उसका शरीर भरा हुआ है. उसके शरीर का माप 34-28-36 होगा.
वह भोजपुरी कलाकार मोनालिसा (अंतरा बिस्वास) की तरह हैं, जो उन्हें एक बार देख लेता है उसका लंड अपने आप खड़ा हो जाता है।

रोहित की दूसरी बहन का नाम प्राची है जिसकी उम्र 23 साल है। इसकी लंबाई 5.4 फीट है.
वह देखने में भी खूबसूरत हैं.
प्राची के शरीर का माप 32-30-34 इंच है जो किसी अभिनेत्री से कम नहीं है।

मैं और प्राची काफी समय से एक दूसरे से प्यार करते हैं।

उनकी सबसे छोटी बहन का नाम रूचि है। वह बहुत शरारती है. रूचि की उम्र 19 या 20 साल है.
उसकी कमर पतली, उभरे हुए स्तन और फैली हुई Moti Gand है.
उसके शरीर का माप 32-26-34 है।
वो हमेशा लंड लेने के लिए तैयार रहती है.

ये कहानी दो साल पहले की है जब रिया दी की शादी होने वाली थी.

शादी से दो दिन पहले हल्दी के दिन रोहित ने मुझे अपने घर पर रोका.
रात को उसने कहा- यार, तुम यहीं सो जाओ, मैं अंकल को फोन करके बता दूँगी।

मैंने सोचा कि चलो रात को प्राची के साथ कुछ मजा करेंगे.

जब सब लोग खाना खा चुके तो मैंने प्राची को अकेला देखा और उसके पास चला गया।
तो उसने मुझसे कहा- ऊपर छत पर आ जाओ.
मैंने हाँ में सिर हिलाया और चला गया।

रात को जब मेरी आंख खुली तो मैंने देखा कि रात के 12 बज रहे थे और सभी लोग सो रहे थे.

मैं तुरंत वहां से उठा और तकिया लेकर छत पर गया तो देखा कि वहां पहले से ही कोई सो रहा था.
मुझे लगा कि वह प्राची होगी.

तो मैं बिना कुछ कहे उसके पीछे लेट गया और आराम से उसके चूतड़ दबाने लगा और उसकी गर्दन पर चूमने लगा।
लेकिन उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

फिर मैं एक हाथ से उसके मम्मे दबाने लगा और अपना लोअर निकाल दिया.

लोअर निकलते ही मेरा लंड खड़ा हो गया जो काफ़ी लम्बा, मोटा है।

फिर मैंने झट से उसके स्तन दबा दिये तो वो मेरी तरफ घूम गयी.
मैं उसका चेहरा देखकर डर गया.

प्राची नहीं बल्कि रिया थी जो अपने पति से बात करते-करते ऊपर सो गई थी।

मुझे लगा कि अब तू फंस गया देव!
रिया दी गुस्सा हो गईं और बोलीं- क्या कर रहे हो?

मेरे मुँह से निकला- किया?
दी तुरंत बोलीं- तो तुम ये सब किसके साथ करने वाले थे?

मैंने डरते हुए कहा- प्राची और मैं एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं. प्राची ने मुझसे रात को ऊपर आने को कहा था.

तो रिया मुस्कुराई और बोली- ओह.. तो तुम दोनों का चक्कर चल रहा है.. और आज उसे klpd. मिल गई है। बेचारे दोनों मजे करके रह गए!

अब ये सब बातें सुनकर मुझे समझ आ गया था कि अगर प्राची सही नहीं होगी तो रिया दी मुझसे जरूर चुदेंगी.

मैंने दीदी का हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया, जिसे दीदी अब धीरे-धीरे सहला रही थी.
और मैं भी अपने हाथों से उसके स्तनों को मसलने लगा और उसके होंठों को चूमने लगा।

कुछ देर तक हम दोनों ऐसे ही एक दूसरे को करते रहे.
फिर अलग होकर हमने एक दूसरे के पूरे कपड़े उतार दिये.
और छत पर 69 की अवस्था में पहुंच कर मैं दीदी की चूत के ऊपरी हिस्से के क्लाइटोरिस को सहलाते हुए अपनी जीभ से चोदने लगा.
जिससे रिया दी की चूत गीली हो गयी और झड़ गयी.

लेकिन मैं अभी तक नहीं झड़ा था, मैंने दी की चूत चाटना जारी रखा और थोड़ी देर में दी फिर से उत्तेजित हो गयी।

दी मेरे लंड को मुँह में लेकर अच्छे से चूस रही थी.
हम दोनों के मुँह से हल्की-हल्की सिसकारियाँ निकल रही थीं।

10 मिनट में मैं और दीदी एक साथ झड़ गये.

फिर हम दोनों कुछ देर तक नंगे ही लेटे रहे.

दी फिर से मेरे लंड को सहलाने लगीं और 2 मिनट में मेरा लंड लकड़ी की तरह सख्त हो गया.
मैंने दी को सीधा लिटाया और उनकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया ताकि उनकी Pink chut ऊपर उठ जाये.

फिर मैं उसकी दोनों टाँगें खोलकर बीच में आ गया और अपना खड़ा लंड उसकी चूत के मुँह पर रखा और हल्का सा धक्का दिया।
तो मेरे लंड का ऊपरी हिस्सा अन्दर चला गया.

दर्द के कारण दीदी के मुँह से चीख निकल गयी.
तो मैंने तुरंत उसका मुँह अपने होंठों से बंद कर दिया और धीरे-धीरे उसके स्तनों को सहलाने लगा।

जब दीदी का दर्द कम हुआ तो मैंने पूरी ताकत से धक्का लगा दिया जिससे मेरा लंड आधे से ज्यादा अन्दर चला गया और दीदी रोने लगी.
मैं उसकी गर्दन और मुँह को चूमते हुए उसके स्तनों को सहलाता रहा जिससे उसे आराम मिला।

हम 2-3 मिनट तक ऐसे ही लेटे रहे, फिर मैंने पूरी ताकत से धक्का लगाया तो मेरा पूरा लंड जड़ तक चला गया और बच्चेदानी से टकराने लगा.
दीदी को बहुत दर्द हो रहा था.

हम दोनों शांत होकर उसी स्थिति में लेटे रहे.

फिर मैं धीरे-धीरे अपना लंड दीदी की चूत में अन्दर-बाहर करने लगा, जिससे दीदी को राहत मिली और वो भी अपनी कमर उठा-उठा कर मेरा साथ देने लगी।

मैंने कहा- दीदी, मजा आ रहा है?
तो वो बोली- अब तुम मेरी बहन नहीं हो… मुझे रिया रंडी कहो!
मैंने कहा- ठीक है रिया रंडी, चल अब घोड़ी बन जा!

और दीदी तुरंत घोड़ी बन गयी.
मैं उसके पीछे आ गया और उसकी चूत में लंड पेल कर आगे पीछे करने लगा. Chut chudai करने लगा।
उसके मुँह से हा उह ओह आह आह आह की आवाजें निकल रही थीं.

वो बोल रही थी- और चोद मादरचोद!
मैं भी पूरी ताकत से चोद रहा था- और ले रंडी… चोद अपनी बहन के लौड़े को! जब तुम अपने पति के साथ रहोगे तब भी तुम्हें मेरी याद आएगी.

इसी तरह हम दोनों 20-25 मिनट तक Bur Chudai करते रहे.

इस बीच दीदी दो बार झड़ चुकी थी और मैं एक बार झड़ चुका था।

मैंने रात 2 बजे तक Friend Sister Sex Story का मजा लिया.

इस दौरान मैंने दीदी को तीन अलग-अलग आसनों में चोदा और मैं अपने कपड़े पहनकर रोहित के साथ सोने चला गया।

दीदी भी अपने कपड़े लेकर खुद को साफ करने के लिए बाथरूम में चली गईं.

उसके बाद दीदी की शादी हो गयी और वो अपने पिया के घर चली गयी.

तब से जब भी दीदी अपने मायके आती हैं, हम मौका मिलने पर मिलते हैं और प्यार करता हूँ। और मैं उनकी खूब Bur ki chudai करता हूं अब हम दो कदम आगे बढ़ चुके हैं अपने रिलेशनशिप से अब शहनाज दी मुझे अपनी गांड भी चोदने देती है यानी कि अपनी Gand Chudai करवाने देती है उसकी गांड का छेद बहुत टाइट है मेरे लोड़े में कभी कबार दर्द हो जाता है पर शहनाज दीदी ठंडी ही नहीं हो पाती है

तो दोस्तो, Dost Ki Behan Ki Chudai की कहानी आपको मेरी  कैसी लगी?

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds

Saale Copy Karega to DMCA Maar Dunga