कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी: दोस्त की सेक्सी बहन भाग 2

कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी: दोस्त की सेक्सी बहन भाग 2

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी: दोस्त की सेक्सी बहन भाग 2”। यह कहानी रोहित की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

मेरे सबसे अच्छे दोस्त की छोटी बहन ने मुझे चोदने का सुख दिया. मैंने उसी दिन उसे हवस भरी नजरों से देखा और उसी दिन मुझे उसकी कुंवारी चूत का मजा लेने को मिला.

कहानी के पहले भाग: कमसिन जवान लड़की की चुदाई, में अपने पढ़ा की कैसे मैंने मेरी दोस्त की बहन को चोदने के लिए पटा लिया।

अब आगे कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी का मजा:

यह सुनकर उसने अपनी दोनों टांगें खोल दीं.

अब मैंने लंड के सुपारे को उसकी चूत की सुरंग पर रखा और थोड़ा सा दबाया और लंड के सुपारे ने अंदर जाने के लिए उसकी सुरंग पर दबाव बनाया। तभी Shikha कसमसाने लगी.

मैं- शिखा, यह इतनी आसानी से नहीं घुसेगा, थोड़ा सा चीरा लगाने पर ही अन्दर जायेगा।
शिखा- नहीं बाबा, आप मुझे दुःख नहीं पहुँचाना।

मैंने चारों ओर देखा और उसकी मेकअप टेबल पर कुछ क्रीम और तेल की बोतलें देखीं। मैं उठा और वहां से वैसलीन की शीशी ले आया. (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

शिखा- अरे बेवकूफ़, वहाँ कोई वैसलीन लगाता है क्या? बहुत सारी क्रीम उपलब्ध हैं, कृपया कोई अच्छी त्वचा क्रीम लाएँ!

जब मैंने डव की क्रीम देखी तो उसे ले लिया और उसकी चूत के पास आकर बैठ गया और क्रीम को चूत पर और अंदर अच्छी तरह से लगा लिया।

अब उसकी चूत मक्खन से भरी पाव रोटी की तरह लग रही थी.

मैं उसकी चूत को क्रीम से सहलाते हुए धीरे-धीरे अपनी उंगली उसकी सुरंग में डालने लगा।

मुझे भी मजा आ रहा था और शिखा को भी. अब हम दोनों से बर्दाश्त नहीं हो रहा था.
शिखा का शरीर ऊपर-नीचे होने लगा, मेरा लंड भी पूरी तरह तैयार हो गया।

मैंने शिखा की आँखों में देखा तो वहाँ मौन सहमति दिखी।

जब मैं उसके ऊपर चढ़ गया तो शिखा ने तुरंत अपना दाहिना हाथ नीचे लाकर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी Tight Chut की सुरंग पर सेट किया और फिर अपने दोनों हाथों को मेरी कमर पर ले आई और साथ ही अपने दोनों हाथों से मेरी कमर को नीचे दबा दिया। उसी समय उसने नीचे से अपनी गांड झटके से ऊपर उठाई. 

और उसी वक्त मैंने ऊपर से एक जोरदार झटका दे दिया. क्रीम की वजह से चूत बहुत फिसलन भरी सुरंग बन गई थी और एक साथ तीन धक्कों के कारण न केवल चूत फट गई बल्कि मेरे लंड की त्वचा भी फट गई और वह एक ही झटके में पूरा अन्दर चला गया, लेकिन अन्दर जाने के बाद. मेरे लंड का सुपारा उसकी बुर में फंस गया.

शिखा बेहोश हो गई थी और मुझे पसीना आ रहा था.
मैंने शिखा को बुलाया लेकिन कोई जवाब नहीं आया.

फिर मैंने अपना लंड बाहर निकालने की कोशिश की लेकिन वह पूरी तरह फंस गया था।

इतने में शिखा बड़बड़ाने लगी.
मैंने अपनी कमर हिलाई तो दर्द से चिल्ला उठी.

मैंने कहा- रुको शिखा, यह बाहर नहीं आ रहा है, मैं किसी तरह से इसे बाहर निकालने की कोशिश कर रहा हूँ।
शिखा- रोहित, पहले तुम इसे बाहर निकालो, मुझे बहुत दर्द हो रहा है। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

मैंने नारियल तेल की शीशी ली और प्यार से उसकी चूत को थोड़ा सा खोला और तेल की 4-5 बूँदें टपका दीं और अपनी कमर को थोड़ा ऊपर उठा दिया। शिखा को दर्द हुआ लेकिन मेरा लंड भी थोड़ा बाहर आ गया.

मुझे राहत महसूस हुई और शिखा ने भी राहत की सांस ली और बोली- फेविकोल लगा कर आये हो क्या?
मैंने कहा- कुतिया, तेरी चूत तो बहुत टाइट है, क्या तूने कभी इसमें उंगली भी नहीं डाली?

शिखा- साले, मैं सिर्फ सुबह नहाते समय अपनी चूत को छूती हूँ ताकि उसे अच्छे से धो सकूँ, मैं तुम लोगों की तरह पूरे दिन अपने लंड को नहीं छूती।

जब मेरी नज़र शिखा की चूत पर पड़ी तो मैं थोड़ा डर गया क्योंकि शिखा की चूत की दोनों पंखुड़ियाँ फट चुकी थीं और चूत में खून लगा हुआ था।

फिर मैंने जल्दी से डव क्रीम निकाली और चूत पर लगा ली.
जब शिखा को काफी राहत मिली तो वह उठी और अपनी चूत की तरफ देखते हुए बोली- ज्यादा कोई नुकसान नहीं हुआ, मेरी दोस्त कहती थी कि पहली बार में चूत फट जाती है और खून भी बहुत निकलता है। आप कितने अच्छे हैं।

मैंने मन में कहा कि अगर मैंने समय पर डव क्रीम न लगाई होती तो अब तक हंगामा मच गया होता; मेरा Chut Chudai करने का मूड ख़राब हो जाता और मेरी रात ख़राब हो जाता.

लेकिन असली परीक्षा अब थी, मुझे अपना लंड फिर से उसकी चूत में डालना था।
मैंने अपने लंड पर ढेर सारा तेल लगाया, उसकी चूत पर क्रीम लगाई और भगवान का नाम लेकर उसकी चूत की सुरंग पर लंड रख दिया। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

शिखा से बात करते करते मैंने उसकी चूत पर अपने लंड से दबाव बनाया.
उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी तो मैंने और दबाव डाला और एक प्यार भरा झटका मारा तो मेरा लंड उसकी चूत को फाड़ता हुआ अन्दर घुस गया.

शिखा को अपने चेहरे पर दर्द महसूस हुआ लेकिन उसने उसे निगल लिया।
मैंने लंड को थोड़ा बाहर निकाला और फिर से थोड़ा जोर लगाकर अन्दर डाल दिया.
और इस तरह मैंने शिखा को चोदना शुरू कर दिया.

शिखा एक मिनट तक चुप रही और फिर वो भी नीचे से चुदवाने लगी.

डव क्रीम ने पूरा साथ दिया और फिर मैंने लंड को एक बार बाहर निकाला, तेल लगाया और फिर चूत में डाल दिया और चोदना शुरू कर दिया।

शिखा को बहुत मजा आ रहा था.
‘उसे बहुत मज़ा आ रहा है!’ मैंने ऐसा इसलिए सोचा क्योंकि वो चुदाई करवाते समय उछलने और चिल्लाने लगी थी.

वो बड़े जोश से चुदवा रही थी. मैं भी उसे इस तरह से चुदते हुए देख कर उत्तेजित हो रहा था.
मैं भी उसे जोर जोर से चोद रहा था, लेकिन ऐसा लग रहा था कि शिखा का जोश ठंडा नहीं हो रहा था.

अचानक मेरी नज़र घड़ी की तरफ गयी और मैंने देखा कि अभी 1:30 बज रहे थे तो मैंने कुछ सोचते हुए शिखा से कुछ कहा और वो तुरंत मान गयी.

फिर मैं उसे जोर जोर से चोदने लगा.
शिखा भी नीचे से पूरा साथ दे रही थी।

तभी अचानक शिखा ने पोजीशन बदलने की बात कही.
मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाला तो शिखा डॉगी स्टाइल में आ गयी.
उसकी नंगी, गोल और सेक्सी Moti Gand, छोटे बच्चों के फुटबॉल के आकार की, मेरी आँखों के सामने आ गई।

शिखा की गांड बहुत गोरी थी और उसकी गांड का छेद बहुत लाल था. मुझे उसकी गांड चोदने का मन कर रहा था.
लेकिन कुछ सोच कर मैं रुक गया कि अब मुझे उसकी चूत का मजा लेना है. (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

मैंने थोड़ा नीचे झुक कर उसकी चूत की तरफ देखा तो पाया कि वो पहले से भी ज्यादा सूज कर लाल हो गयी थी.

फिर मैंने उसकी चूत पर और क्रीम लगाई और शिखा से कहा- शिखा, अब मैं तुम्हारी चूत की सवारी करूँगा, क्या तुम चुदवाने के लिए तैयार हो? शिखा ने सिर हिलाकर सहमति व्यक्त की।

मैंने अपना हाथ उसकी कमर के नीचे डाला और उसकी गांड ऊपर उठाई, अपना दाहिना पैर उठाकर उसकी गांड पर रखा और अपने बाएं हाथ से अपना लंड पकड़ कर उसकी चूत के मुँह पर सेट किया।

फिर मैंने शिखा को एक जोरदार झटका दिया और उसे तैयार होने को कहा. और मेरा लंड फिर से शिखा की चूत को फाड़ता हुआ पूरा का पूरा शिखा की चूत में समा गया.

एक पल के लिए शिखा की आँखें चौड़ी हो गईं लेकिन मुझे ऐसा लगा जैसे उसने खून का घूंट पी लिया हो।

इस बार शिखा को चुदाई का मजा आने लगा.
मैं पीछे से शिखा की सवारी कर रहा था और आनंद लेने के लिए शिखा चिल्लाने लगी- चोदो रोहित… तेजी से चोदो मुझे। फाड़ दो मेरी चूत को. ले रोहित, चोद ले अपने दोस्त की बहन को… चोद ले जी भर कर अपने दोस्त की बहन को!

शिखा ने इतनी सेक्स वाली बातें कहाँ से सीखीं… मुझे नहीं पता।
लेकिन उसकी इस भाषा ने मेरे लंड को पूरे जोश में ला दिया.

मैं उसे पीछे से डॉगी स्टाइल में जोर जोर से चोद रहा था और शिखा भी मेरे लंड की ताल के साथ अपनी गांड को पीछे धकेल रही थी. जब हमारे शरीर आपस में टकराते थे तो फच फच की मधुर आवाज आ रही थी. (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

शिखा अचानक बोली- रोहित, तुम्हें चोदने में इतना मजा आता है?
मैंने कहा- जब दोनों मस्ती से चुदाई करते हैं तो बहुत मजा आता है.

शिखा- लेकिन हम दोनों तो मजे से चुदाई कर रहे हैं ना?
मैं- हां तभी तो हम इतना मजा कर रहे हैं और शिखा तुम तो बहुत अच्छी चुदाई करती हो. तुमने इसे कहाँ सीखा?

शिखा- मैंने कहा था न, आजकल इंटरनेट पर सब कुछ उपलब्ध है।
मैं: तो तुम ब्लू फिल्में देखती हो. आपको साइट किसने बताई?

शिखा- हम लड़कियाँ भी आजकल स्मार्ट हो गई हैं। लेकिन आप लोगों की तरह हम हर समय सेक्स के बारे में बात नहीं करते। आप लोग जब भी किसी खूबसूरत लड़की को देखते हैं तो बस यही सोचते हैं कि ‘उसे कैसे चोदा जाए’।

शिखा की ऐसी बातें सुन कर मेरा लंड जोर जोर से झटके मार मार कर चोदने लगा.
शिखा ने भी अपने दोनों हाथ पीछे ले जाकर पीछे से मेरी दोनों जाँघें पकड़ लीं और मुझे अपनी ओर खींच लिया और मुझे चोदने लगी।

अचानक उसकी गति तेज़ हो गई और मुझे भी लगने लगा कि मैं झड़ने वाला हूँ।
मैं शिखा के पैरों के कंपन को साफ़ महसूस कर रहा था, लेकिन शिखा मेरे हर झटके को सहन करते हुए डटी रही और फिर अचानक चिल्लाने लगी।

उसका चिल्लाना इतना बढ़ गया कि मुझे डर लगने लगा कि कहीं बगल वाले बेडरूम में बेहोश पड़ा साहिल फिर से होश में न आ जाए. (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

लेकिन अब मेरा भी मन करने लगा कि मैं शिखा को ज़ोर-ज़ोर से चोदूँ और ज़ोर से झड़ जाऊँ।

आज तक मैं चार बार लड़कियाँ चोद चुका था लेकिन इतनी मस्त चुदाई पहली बार हुई थी।
शिखा की यह पहली चुदाई थी लेकिन उसकी तारीफ करनी होगी… वह ऐसे चुद रही थी जैसे इस खेल में माहिर हो।

अब शिखा का शरीर ऐंठने लगा, उसने गर्दन घुमा कर मेरी तरफ देखा और बोली- रोहित, तुम्हें मजा आया, मैं अब डिस्चार्ज हो रही हूँ। इतना कहते ही उसकी कमर एकदम झुक गई और उसके होंठ मेरे होंठों को चूमने लगे.

और उसकी चूत से बहुत पच पच की आवाज आने लगी और तो और… उसकी चूत से उसकी चूत का रस भी टपकने लगा.

इसी बीच मुझे भी अपने पेट में दबाव महसूस होने लगा, मेरे धक्के अपने चरम पर पहुँच गये।
शिखा नीचे से जोर से चिल्लाने लगी और फिर मेरे लंड ने इतनी जोर से उसकी चूत में पिचकारी मारी कि शिखा की खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

आज पहली बार मैं इतनी ज़ोर से डिस्चार्ज हुआ कि ऐसा लगा जैसे मेरे पेट से सारा पानी निकल गया हो।

शिखा अभी भी आगे-पीछे होकर मेरा सारा तरल पदार्थ निकालने में मेरी मदद कर रही थी।

मुझमें अब कोई ताकत नहीं बची थी, आज की चुदाई ने मुझे पूरी तरह से थका दिया था।
एक नंगी जवान लड़की की चुदाई का मजा लेने के बाद मैं शिखा पर टूट पड़ा.

शिखा भी हांफ रही थी लेकिन शिखा ने खुद पर काबू रखा और मेरे बालों में हाथ फिराते हुए मुझसे पूछा- रोहित, क्या मैंने तुमसे बराबर चुदाई की? कहीं कोई कमी तो नहीं छोड़ी ना? (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

मेरे पास कहने के लिए कोई शब्द नहीं थे क्योंकि एक तो मैंने अपने दोस्त की बहन को चोदा था और दूसरे शिखा ने सेक्स में नौसिखिया होते हुए भी मुझसे बेहतर तरीके से चुदाई की थी. मैं सच कहता हूं, ऐसी चुदाई किसी ने नहीं की होगी.

शिखा- अब शरमाओ मत, जब भी मैं तुम्हें बुलाऊँ तो तुरंत मुझे चोदने आ जाना। मैं तुमसे तब तक चुदवाउंगी जब तक मेरी शादी नहीं हो जाती. (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

मैं- ये मेरी खुशकिस्मती है कि मुझे तुम जैसी लड़की की चूत चोदने को मिली. ये कह कर मैं उसके ऊपर से उठ गया.

मेरी नजर सामने ड्रेसिंग टेबल के शीशे पर पड़ी तो मैं अपने लंड की दयनीय हालत देख कर रोने लगा.
बेचारा चोदते समय बहुत ज़ोर से चोद रहा था और अब वो गरीब की तरह बिल्कुल मुरझा गया था।

मैंने शिखा से कहा- चलो साहिल की हालत देखते हैं. शिखा मुझसे चिपक कर चलने लगी. उसके नुकीले Big Boobs मेरी पीठ पर चुभ रहे थे लेकिन उस चुभन में कुछ अलग ही बात थी। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी)

साहिल अभी भी बेहोश था और वैसे ही सो रहा था जैसे उसे सुलाया था, उसने करवट भी नहीं बदली थी।

मैंने शिखा को फिर से अपनी बांहों में भर लिया तो शिखा ने खुद को छुड़ाया और बोली- अभी नहीं रोहित, चलो थोड़ी देर आराम करते हैं। सुबह होने से पहले मैं तुमसे एक राउंड और चुदवाउंगी, ये वादा है.

तो चलिए दोस्तों थोड़ा आराम कर लेते हैं. तब तक आप लोग इस कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी पढ़ें और हमें बताएं कि आपको कहानी कैसी लगी.

अगर आप ऐसी और कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “wildfantasy.in” की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds

Saale Copy Karega to DMCA Maar Dunga