कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी: दोस्त की सेक्सी बहन भाग 1

कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी: दोस्त की सेक्सी बहन भाग 1

हेलो दोस्तों मैं सोफिया खान हूं, आज मैं एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आ गई हूं जिसका नाम है “कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी: दोस्त की सेक्सी बहन भाग 1”। यह कहानी रोहित की है आगे की कहानी वह आपको खुद बताएँगे मुझे यकीन है कि आप सभी को यह पसंद आएगी।

दोस्तों मेरा नाम रोहित है और आपके सामने पेश है मेरे खास दोस्त की छोटी बहन को चोदने की कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी. एक बार मैं अपने दोस्त के साथ उसके घर पर शराब पी रहा था. वहां उसकी बहन भी थी.

दोस्तों यह घटना मेरे साथ तब घटी जब मैं नशे में था. आप लोग ऐसी गलती न करे.
मेरा पुराना दोस्त साहिल बहुत टैलेंटेड, बहुत बुद्धिमान और बहुत कर्तव्यनिष्ठ है।

उसने कम उम्र में ही अपने माता-पिता दोनों को खो दिया था।
लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी और अपनी छोटी बहन शिखा को अपने माता-पिता दोनों की कमी महसूस नहीं होने दी।

उस समय हमारे परिवार ने भी उनका पूरा साथ दिया, यही कारण है कि आज भी वह और उनकी बहन शिखा मेरे परिवार को अपना परिवार मानते हैं।

साहिल ने 22 साल की उम्र में एक फाइनेंशियल फर्म में काम करना शुरू किया और महज 4 साल में वह उस ब्रांच के मैनेजर बन गया। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

यह कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी इसी दोस्त की बहन की है.

इसी बीच हमारा परिवार भी बड़ा हो गया तो हमने भी साहिल के घर से थोड़ी दूरी पर एक नया घर, एक बड़ा घर खरीद लिया।
मैं ही उसकी ईएमआई भरता हूं, जिसके चलते मेरा हाथ थोड़ा तंग रहता है।’

हम दोनों आज भी बहुत अच्छे दोस्त हैं.
वो दोनों भाई-बहन हमारे घर आते रहते हैं लेकिन मैं उसके घर कम ही जाता हूँ।

साहिल बहुत खुशमिजाज़ हैं लेकिन थोड़े गुस्सैल भी हैं।
उसकी एक बहुत बुरी आदत है कि वह ऑफिस की परेशानियां घर ले आता है और फिर मुझे बहुत याद करता है।

कल भी उनके दफ्तर में पिछले महीने के प्रदर्शन पर चर्चा हुई थी.
पिछले महीने उनके स्टाफ ने दो गलतियाँ की थीं जिसके कारण उनकी कंपनी को भारी नुकसान उठाना पड़ा था और इस कारण उनका गुस्सा बढ़ रहा था। जब वह मुझसे मिले तो उन्होंने मुझे ये सारी बातें बताईं।’

खैर, शाम को 6.45 बजे उसका फोन आया कि हम दोनों शाम को उसके घर पर पार्टी करेंगे.
तो मैं हाथ-मुँह धोकर 7.15 बजे उसके घर पहुँच गया।

Shikha ने मेरा स्वागत किया और मुझे ड्राइंग रूम में बिठाया और पानी लेने चली गयी।
मैं पीछे से उसे जाते हुए देखता रहा और मैंने उसके नितम्बों को हिलते हुए देखा।

लेकिन मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया.
और मैं क्यों देता, वो तो मेरे दोस्त की बहन थी.

वह पानी की बोतल और गिलास ले आई।

बोतल से पानी निकालते समय मेरी नजर फिर उसकी Moti Gand पर पड़ी.
लेकिन मैंने अपना सिर हिलाया और गंदे विचारों को दूर भगाया।

फिर भी मेरे दिमाग में उसकी हिलती हुई गांड घूम रही थी.
वैसे भी मैं चार महीने से भूखा था. मेरी वित्तीय समस्याओं के कारण मेरी प्रेमिका ने मुझसे संबंध तोड़ लिया।

इतने में साहिल आया और बैग से व्हिस्की की दो बोतलें निकाल कर मेरी टेबल पर रख दीं और फ्रेश होने चला गया.

जब शिखा ने मेज पर शराब देखी तो वह तुरंत दो कांच के गिलास और भुनी हुई मूंगफली की एक प्लेट ले आई और मेज पर रख दी और जाने लगी। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

तो अब जल्दी में होने के कारण उसके नितम्ब बहुत ज़ोर-ज़ोर से हिल रहे थे। उससे मेरा लंड अपने आप हिलने लगा. इतने में साहिल आया और एक कुर्सी खींच कर उस पर पैर फैला कर बैठ गया.

मैं- क्या बात है साहिल, आज ऑफिस में कुछ हुआ क्या?

इतने में शिखा सोडा की बोतल और पानी का जग ले आई।
मैं शिखा को दोबारा जाते हुए देखने के लिए उत्सुक हो गया.

साहिल- यार, पहले एक पैग बना कर मुझे पीने दो, फिर बताऊंगा.

मैंने एक पैग बनाया और साहिल की तरफ बढ़ा दिया.
साहिल ने पैग उठाया और खाली कर दिया।

इससे पहले कि मैं कुछ कहता, शिखा बोली- भाई चिल!
इतना कहकर उसने साहिल के बालों को प्यार से सहलाया और चली गई।

फिर हम दोनों बातें करते हुए शराब का मजा लेने लगे.
और फिर साहिल ऑफिस में हुई बातें बताने लगा.

बताने के बाद उनका मूड थोड़ा हल्का हो गया.

रात करीब 9 बजे शिखा नहाने के लिए बाथरूम में गयी.
यही उसका रूटीन था.

और उसी समय साहिल भी टॉयलेट जाने के लिए उठ गया.

साहिल लड़खड़ा रहा था लेकिन टॉयलेट पहुँचने से पहले अचानक साहिल के पैर उलझ गए और वह धड़ाम से ज़मीन पर गिर गया और गिरते समय उसने शिखा का नाम पुकारा। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

उसकी आवाज़ सुनकर मैं उठ कर उसकी ओर दौड़ा।
उसी समय शिखा भी बाथरूम का दरवाज़ा खोलकर बाहर आ गई।

मुझसे पहले ही वह साहिल के पास पहुंची और साहिल का सिर उठाकर अपनी गोद में रख लिया और रोते हुए कहने लगी- भाई भाई!

तब तक मैं भी वहां पहुंच गया और साहिल के चेहरे पर पानी के छींटे मारकर बैठ गया.
साहिल ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी लेकिन उसकी साँसें चल रही थीं तो मैंने शिखा की ओर देखा और कहा- चलो शिखा, इसे बेडरूम में बिस्तर पर लिटा देते हैं, डॉक्टर को बुलाने की ज़रूरत नहीं है। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

इतना कह कर मैंने साहिल के पैर उठाये और बेडरूम की ओर चल दिए।
शिखा ने भी पीछे से सिर उठा लिया.

बेडरूम में हमने उसे बिस्तर पर लेटा दिया और जैसे ही मैंने उसकी कमर सीधी की, मेरी नज़र शिखा पर पड़ी और मैं अपने होश खो बैठा।

शिखा का नंगा शरीर सामने था, उसने केवल पैंटी पहनी हुई थी और ऊपर से पूरा शरीर दूध की तरह चमक रहा था।

ये नजारा देख कर मैंने नजरें झुका लीं और बाहर चला गया.

जैसे ही हम बाहर आये तो मेरी नज़र हम दोनों के सामने टेबल पर रखे व्हिस्की से भरे गिलासों पर पड़ी और मैंने बारी-बारी से दोनों गिलास एक ही सांस में खाली कर दिये. मेरे बदन में आग लग गयी थी.

मैंने अपने पर काबू पा लिया लेकिन मेरे मन में वासना घर कर चुकी थी.

मैं अन्दर आया और शिखा की तरफ देखे बिना उससे कहा- डरने की कोई बात नहीं है। बस ज्यादा शराब का नशा है. सब ठीक हो जाएगा। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

यह कहते हुए मैंने बाहर से लाए तौलिये से शिखा के शरीर के ऊपरी हिस्से को ढक दिया।
और तब शिखा को एहसास हुआ कि वह इतनी देर से नंगी घूम रही थी।

वह झटके से उठी तो शिखा के Big Boobs मेरे दोनों हाथों में आ गये और मैंने उन्हें दबा कर शिखा को अपनी ओर खींच लिया।

शिखा झट से मेरे ऊपर गिर गई और मैं उसके साथ बिस्तर पर गिर गया।
मेरे दोनों हाथ अभी भी शिखा के स्तनों पर थे और मैं उन्हें बेतहाशा दबा रहा था।

शिखा ने कुछ कहने के लिए अपना मुँह खोला तो मैंने उसकी आवाज़ को दबाते हुए उसके दोनों होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उन्हें चूसने लगा।

मैं वासना और शराब के नशे में अपना होश खो बैठा था.
मैंने उसकी पैंटी खींच कर फाड़ दी और अचानक बिजली कड़की.
ऐसा नजारा दिखा कि मैं भी कुछ सेकेंड के लिए अवाक रह गया.

मेरे सामने दूध से नहाई हुई एक मूर्ति थी, जिसके दो छोटे स्तन और एक चूत थी, जो कामदेव द्वारा बनाई गई सुंदर और आकर्षक रोटी की तरह फूली हुई थी। शिखा ने उसे अपने दोनों हाथों से ढक लिया और दीवार की ओर मुड़ गयी।

एक बार फिर बिजली गिरी.
इस बार उसकी गांड ने हलचल मचा दी.
क्या मस्त गांड थी उसकी, रुई से भी ज्यादा मुलायम!

मेरे सब्र का बाँध टूट रहा था, मैं उसकी ओर बढ़ा तो शिखा मुड़ी और मुझसे कहने लगी- नहीं रोहित, रुको। यह पाप है. आपका दोस्त बेहोश है और आप मौज-मस्ती करने की सोच रहे हैं? (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

लेकिन मेरे मन में तो शैतान सवार हो गया था, मैंने कहा- शिखा, साहिल को कुछ नहीं हुआ है। वह शराब के नशे में बेहोश है, सुबह तक ठीक हो जाएगा। और मैं आज रात यहीं हूँ, तुम दोनों का अच्छे से ख्याल रखूँगा। खास तौर पर तुम्हारा मैं तुम्हें रात भर चोदूंगा.

शिखा- तुम्हें शर्म नहीं आती अपने दोस्त की बहन पर बुरी नजर डालते हुए और ऐसी गंदी बातें करते हुए?
मैं- तुम मेरे दोस्त की बहन हो, मेरी नहीं! अगर मेरी होती तो भी आज मैं तुम्हें चोद देता!

यह कहते हुए मैंने उसकी दोनों बांहों पर हाथ रख कर उसे उठाया और गले लगाते हुए उसके बेडरूम में ले गया.

उसे बिस्तर पर लिटाने के बाद मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उससे कहने लगा- देखो शिखा, आज मुझे कुछ नहीं चाहिए… मुझे सिर्फ तुम्हारी Tight Chut दिख रही है और मुझे आज इसे चोदना है।

शिखा- तो आज अपने दोस्त की बहन को बर्बाद करोगे?
मैं- हाँ शिखा, आज हम दोनों ने बहुत शराब पी है और तुम्हारे इस नंगे दूधिया बदन को देखकर मैं अपने आप पर काबू नहीं रख पा रहा हूँ। तुम चाहो तो सुबह मुझे फाँसी पर लटका सकते हो। लेकिन आज मैं तुमसे विनती करता हूँ कि मुझे तुम्हें चोदने दो। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

फिर मैं अपने कपड़े उतारने लगा.
तो शिखा भी समझ गयी कि आज मैं नशे में हूँ, उसका नंगा कामुक बदन देख कर शायद साहिल ने भी मुझे चोद दिया होता।
उसने खुद को मेरे हवाले कर दिया और बोली- तुम मेरे भाई के दोस्त हो इसलिए मुझे ज्यादा नुकसान मत पहुंचना.

मैं समझ गया कि अब मेरी रात रंगीन होने वाली है और अगर शिखा ने साथ दिया तो हम दोनों को मजा आएगा.

फिर मैंने धीरे-धीरे शिखा के शरीर पर हाथ फिराना शुरू कर दिया।
मैंने एक हाथ से उसके एक स्तन को पकड़ लिया और दूसरे हाथ से उसके पेट को सहलाने लगा।

उत्तेजना से उसका पेट सिकुड़ने लगा।
अगर लड़की का पेट कांपने लगे या उस पर झुर्रियां पड़ने लगे तो समझ जाइये कि लड़की चुदाई के लिए पूरी तरह से तैयार है और अपनी गांड उठा कर चुदवायेगी। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

शिखा का पेट भी कांपने लगा लेकिन मैं उसे और तड़पाना चाहता था।

मैं अपना हाथ उसकी जाँघों के बीच ले गया और पाव को बीच से फाड़ने की कोशिश करने लगा।
तो यह बीच से खुल गया.

हाय राम…अंदर दो गुलाबी रंग की चूत की पंखुड़ी थीं।
मैंने उसे छूने की कोशिश की तो वो कांपने लगी.

जैसे ही मैंने उसे छुआ, शिखा उछल पड़ी.

मैंने अपना सिर उठाया और उसकी आँखों में देखा तो उसकी आंखें लाल हो रही थी।
जैसे ही उसने मुझे देखा तो उसने अपनी पलकें झुका लीं और उसके चेहरे पर हल्की सी मुस्कान आ गई.

मैं समझ गया कि चिड़िया Chut Chudai के लिए तैयार है!
फिर मैं उसके दोनों गुलाबी स्तनों को सहलाने लगा।

तो उसने अपने दोनों हाथ अपनी गांड के नीचे रख लिए.
मैं उसकी इस हरकत को समझ नहीं पाया.

फिर मैंने अपनी बीच वाली उंगली चूत के बीच में डाल दी और उसने दोनों हाथों से अपनी गांड को झटका दिया और मेरी उंगली चूत के बीच की सुरंग में घुस गई। इससे उसकी कमर अर्जुन के धनुष की तरह मुड़ गयी और उसकी गांड हिलने लगी.

अब मुझे भी जोश आ रहा था.
मैं अपनी उंगली उस सुरंग में डालने की कोशिश कर रहा था।

लेकिन सुरंग बहुत टाइट थी इसलिए मैंने सोचा कि अगर मैं अपनी उंगली बाहर निकालूंगा, अपना थूक लगाऊंगा और वापस अंदर डालूंगा तो यह चली जाएगी। (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

लेकिन जैसे ही मैंने उंगली मुँह में डाली… ओह्ह्ह… मेरे मुँह में एक खट्टा स्वाद भर गया और मैंने अपनी उंगली पूरी चाट ली।
शिखा बोली- छी, गंदा.

मैंने फिर से अपनी उंगली चूत में डाल दी और फिर उसके मुँह के पास ले जाकर बोला- ले, तू भी चख ले, तेरी चूत का पानी बहुत मीठा है.
शिखा- छी!

मैं: आपने कभी टेस्ट नहीं किया?
शिखा- नहीं.
में : कह रहा हूँ प्लीज एक बार टेस्ट करो और उसके मुहं में अपनी उंगली डाल दी।
शिखा- हम्म… स्वाद अच्छा है.
मैंने कहा- मेरी भी ले कर देख लो!

तो उन्होंने मना कर दिया.

फिर मैंने अपनी उंगली को पूरी तरह से गीला किया और थोड़ा ज़ोर लगाकर उसकी चूत में अंदर तक डाल दिया.
शिखा चरमोत्कर्ष पर पहुंच गई, उसने अपनी कमर उठाई और मेरी उंगली को अंदर लेने की पूरी कोशिश करने लगी।

कुछ मिनट बाद मैंने अपनी उंगली निकाली और उसकी चूत को चाटने लगा.

शिखा को जैसे करंट सा लगने लगा और उसका पूरा शरीर कांपने लगा.

मैंने उसकी चूत को अपनी जीभ से चूसना शुरू किया तो वो अपनी गांड को जोर-जोर से ऊपर-नीचे करने लगी और फिर पलट कर 69 पोजीशन में आ गई और तुरंत मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी।

जब उसने लंड मुँह में लिया तो मैं भी अपने होश खो बैठा.
मेरा लंड मेरी बर्दाश्त से बाहर होने लगा लेकिन मुझे मजा आ रहा था.

अचानक शिखा जोर-जोर से उछलने लगी और मेरे लंड को जोर-जोर से चूसने लगी। वो कहने लगी- मेरे अंदर से कुछ निकल रहा है. और उसने तीन-चार जोरदार धक्के मारे और उसकी चूत से गर्म सफेद पानी निकलने लगा.

मैंने उसकी चूत को चाट कर साफ कर दिया और उसकी चूत को ध्यान से देखने लगा.
उसकी चूत की दोनों पंखुड़ी अभी भी तड़प रही थीं. उसकी बुर और भी फूल गई थी और उसकी चूत का छेद गुलाबी से लाल हो गया था।

शिखा ने मुँह से लंड निकाला और कहने लगी- अब इस लंड को अंदर डालो और मेरी चूत को चोदो.
मैंने कहा- रुको, पहले मैं साहिल को देख लूं.

फिर मैं नंगा ही साहिल के बेडरूम में गया तो देखा कि साहिल वैसे ही बेहोश पड़ा था.

मैं वापस आया तो शिखा ने पूछा- कैसे हैं भाई?
मैं: ठीक है, वो सो रहा है. चलो शिखा, अब हम…

इतना कह कर शिखा की जाँघों के बीच हाथ डाला और उसे अपने कंधों पर उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया। उसका शरीर किसी स्वर्गीय अप्सरा के समान चमक रहा था। मेरी आँखों में एक नशा था.

मैं अपने दोनों हाथों से उसके उठे हुए मम्मों को दबाने लगा और उसके ऊपर लेट गया.

शिखा मेरे नीचे कराहने लगी और बोली- रोहित, अब अपना यह लंड मेरे अन्दर डाल दो.. और चोदो अपने दोस्त की बहन को।
मैंने कहा- ठीक है. (कमसिन जवान लड़की की चुदाई)

इतना कह कर मैं उसकी चूत के ऊपर आ गया और उसकी चूत की दोनों पंखुड़ियाँ खोल दीं।
अंदर एक सुरंग थी और सुरंग के मुहाने पर एक दाना था जिसे मैंने छुआ और शिखा उछल पड़ी।

जब मैंने सुरंग के अंदर देखा तो मुझे कुछ दिखाई नहीं दिया क्योंकि सुरंग बहुत टाइट थी।
मैं उसकी चूत पर बैठ गया और अपना लंड उसकी चूत पर सेट कर दिया.

शिखा बड़े प्यार और मासूमियत से बोली- तुम अपने दोस्त की बहन को ज्यादा दर्द तो नहीं दोगे ना? मैंने इंटरनेट पर पढ़ा कि पहली बार बहुत दर्द होता है। मैंने कहा- प्यार से चुदेगी तो कुछ महसूस नहीं होगा.

मेरे प्यारे दोस्तो, आपको मेरी कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी कैसी लगी? कमेंट करके जरूर बताये।

कहानी अभी बाकि है मेरे दोस्त इस कहानी का दूसरा भाग पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे

कहानी का अगला भाग: कमसिन जवान लड़की की चुदाई कहानी

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds

Saale Copy Karega to DMCA Maar Dunga