माँ बेटी को एक साथ चोदा  | Threesome sex story

माँ बेटी को एक साथ चोदा  | Threesome sex story

हेलो wildfantasy के रीडर्स मेरा नाम दिलीप है. मै 26 साल का हु . और आज मैं आप लोगो को अपनी सच्ची सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हूँ जिसकी शुरुआत 2019 में हुई .इस सेक्स लाइफ का मज़ा मैं आज भी ले रहा हूँ.

बात अगस्त 2019 की है मेरा ग्रेजुएशन कम्पलीट हो चूका था और मैं कॉम्पिटिटिव एक्साम्स की प्रिपरेशन के साथ-साथ अपने टाउन में होम ट्यूशन भी देता था.

उसी टाइम मेरी मुलाकात सना जी से हुई. वो 34 साल की थी  फिगर 36-28-40 मस्त गोरा गदराया बदन गहरी नाभि खूबसूरत चेहरा और वेल मैनटैनेड बॉडी. जिसे देख के मुर्दे के लंड में भी जान आ जाये.

मुझे उसके बेटे ज़ैद जो की 5 साल का था  को उसको  ट्यूशन देना था. सना जी के घर में तीन लोग थे.सना जी उसकी बेटी नूर (उम्र 19 बिलकुल माँ पे गयी थी) और बेटा ज़ैद जो फाइव इयर्स का था. (Threesome sex story)

सना जी के हस्बैंड बाहर जयपुर में काम करते थे और बहुत कम  घर आ पाते थे. जब मैं पहली बार उनके घर पहुंचा तो सना और उसकी बेटी को देख के मैंने मन में ही सोच लिया था की एक दिन दोनों के साथ बिस्तर गर्म करूँगा.

खैर वे काफी ओपन-माइंडेड लगे और एक दो महीने में मैं उनसे काफी घुल मिल गया. मज़ाक मस्ती पढाई सब हो रहा था. मज़ा इस बात पे आता था सना जी जब भी साड़ी पहनती थी वो अपना क्लीवेज जरूर दिखाती थी.

और जब चाय देने आती तो झुक के अपने मम्मो  के दर्शन करा देती. मुझे रोज माँ-बेटी के अट्रैक्टिव जिस्म को देख के आहें भरता था और रात को याद करके मुठ मार  लेता था. मैं दोनों को चोदना तो चाहता था पर कोई रास्ता नज़र नहीं आ रहा था.

(Threesome sex story)

आखिर एक दिन उम्मीद की एक किरण नज़र आ गयी. मैं ज़ैद को पड़ा रहा था नूर मार्किट गयी हुए थी सना जी मेरे पास आयी और बोली सर देखिये न मेरे फ़ोन में नेट नहीं चल रहा है शायद बाबू (ज़ैद ) ने कुछ गड़बड़ कर दिया होगा.

में लाइए मैं देख लेता हूँ. ये कहकर मैंने फ़ोन ले लिया. मैंने देखा डाटा लिमिट 1 GB में सेट किया हुआ था. मैंने इससे 100 GB पर सेट किया. फिर ब्राउज़र से नेट चला के देखा तो पेज खुलने लगे. (Threesome sex story)

इसी बिच मैंने उनका ब्राउज़र हिस्ट्री चेक कर लिया. और ब्राउज़र हिस्ट्री देख के मैं दंग रह गया. क्युकी पूरी हिस्ट्री सिर्फ और सिर्फ पोर्न साइट से भरी थी. मैं समझ गया अकेली औरत आखिर कब तक अपने शरीर के भूक को बर्दाश्त करेगी.

मुझे अच्छा मौका लगा. मैं छोटे ज़ैद को एक ड्राइंग बनाने को कहा और दूसरे कमरे में गया जहा सना जी थी. में सना जी! फ़ोन ठीक हो गया आपका. (Threesome sex story)

सना – ओह! थैंक यू सर. मुझे लगा कही रिपेयरिंग वाले के पास न जाना भरी पड जाये. में कोई नहीं छोटा सा प्रॉब्लम था. अच्छा सना जी मैं एक बात कहु? सना – (मेरे हाथ से फ़ोन लेते हुए) हाँ हाँ कहिये न. आप मुझे बहुत अच्छी लगाती है.

 आई  लव यू. (इस टाइम मेरा हार्ट बीट और जो दर लग रहा था वो सिर्फ मैं ही जानता था).सना ये.. ये क्या बोल रहे है? आपका दिमाग तो ठीक है?वो बिलकुल झल्ला पड़ी थी.

पर मुझे पता था वो सेक्स की भूखी है थोड़ा जोर देने पर बात बन सकती है. मैंने अपना दाव फेका. में देखिये जब से मैंने आपको देखा है  तब से मैं किसी के बारे में सोच भी नहीं पा रहा. आपकी  खूबसूरती आपका ड्रेसिंग सेंस….प्लीज…सना – (बिच में ही) आप पागल हो गए है. (Threesome sex story)

निकल जाइये यहाँ से..में देखिये आप कब तक पोर्न देख कर अपने आप को संतुष्ट करेंगी? (वो चौक के मुझे देखने लगी). मै  आगे बोलता रहा आपके हस्बैंड तो बाहर रहते है वो वह अपनी सेक्स लाइफ जी भी रहे होंगे.

आपको भी हक़ है अपने सेक्स लाइफ को एन्जॉय करने का.”“लाइफ का ये फेज बार-बार नहीं आता है. एक बार चला  गया तो चला  गया. आपको भी एक हस्बैंड का प्यार चाहिए. और ज़ैद और नूर को बाप का प्यार. वो सब मैं दे सकता हूँ.

बहुत खुश रखूँगा प्रॉमिस…सना – नहीं ऐसा नहीं हो सकता. आप पागल हो गए है. मैं दो बच्चो की माँ हूँ. मैंने अपना आखरी दाव इस्तेमाल किया आँखों में आंसू लेकर बोला  मुझे उससे कोई प्रॉब्लम नहीं.

पहली बार किसी से सच्चा प्यार हुआ था. वो भी नहीं मिला. सोचा था आपको हर सुख दूंगा पर…..उसके बाद मै वहा से निकल गया और वहा  से घर आ गया. मुझे पता था आँखों में आंसू देखने पर 99% औरत काबू में आ जाती है. मैंने अगले दिन दोनों माँ-बेटी को याद करके मुठ मारा और ज़ैद को ट्यूशन देने नहीं गया. (Threesome sex story)

तीसरे दिन सुबह सना जी का कॉल आया.में हेलो..सना सर आप अभी आ सकते है एक प्रॉब्लम हो गयी है.में कैसे प्रॉब्लम?सना आप आइये न प्ल्ज़…में ओके मैं आता हु. जब मै सना जी के यहाँ पहुंचा तो घर में सना जी और नूर ही थे. ज़ैद स्कूल गया हुआ था.

दोनों के चेहरे उतरे हुए थे. मैंने पूछा क्या हुआ?सना वो सर नूर को एक सिरफिरा बदमाश लड़का पिछले कुछ दिनों से रोज प्रोपोज़ करते रहता है. नूर उसको रिस्पांस नहीं दे रही थी.“आज तो उसने हद ही कर दी. वो घर तक आ गया था.

मैंने उससे बोल दिया की नूर का boyfriend है और वो उसी से प्यार करती है. (Threesome sex story)

में तो अब प्रॉब्लम क्या है?सना नूर का कोई boyfriend नहीं है. इसीलिए मैं…. हमदोनो चाहते है की…में क्या? अरे बोलिये भी..सना एहि की आप नूर का बॉयफ्रेंड बन जाइये.में क्या? (अंदर से मैं बहुत खुश था) पर क्यों?

सना क्युकी वो बदमाश लड़का बोल के गया है वो फिर आएगा ये देखने की नूर को सच में कोई boyfriend है या नहीं.

वो लड़का बहुत खतरनाक है पता नहीं क्या करेगा? प्ल्ज़ आप नूर के boyfriend बन जाओ.में नहीं ये नहीं हो सकता.नूर लेकिन क्यों सर?में क्युकी मैं तुम्हारी मम्मी से प्यार करता हूँ और शादी करना चाहता हूँ. (मैंने ओपनली बोल दिया).नूर व्हाट?????नूर ने अपनी मम्मी के तरफ देख जो गुस्से से मुझे देख रही थी. (Threesome sex story)

  मै  आगे बोला  अगर तुम्हारी मम्मी मुझसे शादी करती है तो मैं तुम्हे इस प्रॉब्लम से भी निकल दूंगा. बोलो मंज़ूर है?नूर अच्छा! मतलब मम्मी से शादी करके आप मेरे पापा बांके उस लड़के को डाटना चाहते है?

अरे..उससे मेरा boyfriend चाहिए.में हाँ तो boyfriend बन जाऊंगा न तुम्हारा. तुम्हारी माँ से मुझे पहले प्यार हुआ है तो मैं उससे प्रोपोज़ करके उससे शादी करूँगा.“फिर तुम मुझे प्रोपोज़ कर देना. मैं तुम्हारा boyfriend बन जाऊंगा अस.”तभी सना बोल पड़ी नहीं ये नहीं हो सकता.

नूर माँ सर ठीक बोल रहे है हो सकता है. आखिर कब तब हम दोनों एक दूसरे को पोर्न देख-देख के सटिस्फी करेंगे?ये मेरे लिए ब्रेकिंग न्यूज़ था!में क्या? आप दोनों एक दूसरे को सटिस्फी करते हो? कैसे?नूर फिंगरिंग करके.

(Threesome sex story)

में अच्छा. फिर भी सना जी आप मेरा प्रपोजल एक्सेप्ट नहीं कर रही थी. मैं आप दोनों को भरपूर सुख दूंगा.प्रॉमिस. नूर – मम्मी. प्ल्ज़ आप शादी कर लो सर से मेरी भी जान छूटेगी उस लड़के से.

सना जी बिना कुछ बोले दूसरे कमरे में चली गयी. मैंने नूर से कहा “डॉन’टी वोर्री बेटा . मैं मनाता हु तुम्हारी मम्मी को.” (मैं नूर को बेटा ही बोलता था ट्यूशन के फर्स्ट डे से ही).दूसरे कमरे में सना जी फ्रिज से पानी निकल रही थी.

मैं पीछे से जा के उनसे लिपट गया. वो सहम गयी. मैंने कान में धीरे से कहा  “रिलैक्स बेबी.” और उनके गले में अपने होठ चिपका दिए. मेरा लेफ्ट हैंड को मैंने सीधे उसके पेटीकोट के अंदर ले गया और चुत पे फिंगरिंग शुरू कर दी.

उफ्फफ्फ्फ़….क्या क्लीन शेव चुत थी यार.और मेरा राइट हैंड इसके कोमल बूब्स को मसल रहे थे. (Threesome sex story)

वो  आहे  लेने लगी. मेरे दिमाग में एक आईडिया आया की क्यों न दोनों माँ-बेटी को एक साथ आज ही पेल दूँ. मैंने नूर को आवाज़ दी “नूर बेटा यहाँ आओ.”सना मज़े में डूब चुकी थी. शायद बहुत दिनों बाद मर्द का हाथ पड़ा था उनके जिस्म पर.

नूर रूम में आते ही दांग रह गयी.नूर ठीक मेरे पीछे थी. मैंने अपने राइट हैंड को सना के बूब्स से हटा कर नूर के राइट बूब्स पर रखा और जोर से दबा कर अपनी तरफ कीचा.नूर “आउच…कर उठी. और मेरे तरफ खींच गयी.

सना के गांड में मेरा लंड पैंट  के अंदर से ही चूब रहा था. नूर का फेस मेरे तरफ था. मैंने उसके लेफ्ट बूब्स को दबाया और अपनी तरफ खींच के लिपलॉक कर लिया. मेरा लेफ्ट हैंड सना के चुत में फिंगरिंग कर रहा था.

राइट हैंड बेटी के बूब्स में था. मेरे बाहो में माँ-बेटी दोनों थी. एक तरफ दो बचो को पैदा कर चुकी अनुभवी चुत तो दूसरी तरफ लंड का रह देखती कमसिन चुत .सोच कर मैं पागल हो रहा था. तभी सना जी ने मेरा हाथ अपनी चुत  से हटाया और बोली “जो करना है जल्दी कीजिये वो लड़का 2 घंटे बाद आ जायेगा.

”मैंने नूर के लिप्स छोड़ा और बोला  मुझे आप दोनों को चोदना है. (नूर को घूमने का इशारा किया और उसकी गांड पर जोर की चपाती मरी) थाप.नूर अह्ह्ह्ह….. (Threesome sex story)

सना ठीक है पर उस लड़के के आते ही आप अपने को नूर का boyfriend बताना.नूर (हैरान होते हुए): सिर्फ boyfriend?मैंने पीछे से नूर के दोनों मुम्मो को दोनों हाथों से जकड़ा और गाल पर किश करते हुए खा “डॉन’टी वोर्री बेटा हस्बैंड भी बन जाऊंगा.

पहले तेरी मम्मी से तो शादी कर लू.”नूर की गांड भी मस्त थी. मेरा लैंड फनफना रहा था. मैंने नूर के कपडे उतरने शुरू कर दिए तो सना बोली “नूर को चोदना है पहले?”में  नहीं चोदना तो आपको है. नूर को बस गोदी में बैठा के अपने लंड को तैयार करना है.

मैं ये कहते हुए नूर की पैंटी  एक झटके से निचे कर दी.नूर का गांड मेरी फेस के सामने था. वोओओओ क्या गांड थी यार एक दम गद्देदार….. सॉफ्ट और बिच की दरार ओह माय गॉड.

मैं जोश में झट से नंगा हो गया. और नूर के गांड के दरार में अपना लंड फसा के धक्का मारने  लगा. मेरा राइट हैंड नूर की कमर को पकड़े हुए था. वो “उफ्फ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह्ह कर रही थी.

मैं भी “आअह्ह्ह्ह कर रहा था. ठप्प… ठप्प्प…ठप्प्प… नूर के गांड के ठीक निचे जांघों से होते हुए मेरा लंड उसके चुत  के मुहाने से टकरा रहा था. वो मस्त उनके बंद करके “आअह्ह्ह्ह… कर रही रही थी. (Threesome sex story)

लंड भले ही अंदर चुत  में नहीं था पर मज़ा आ रहा था उसे. मेरा राइट हैंड इसके कमर को पकड़े रखा था और लेफ्ट हैंड से उसके चूतड़ में बिच-बिच में चपत लगा था था.

मैं तो जन्नत में था .सना हम दोनों को देख रही थी. मैंने सना को अपनी और खींचा और लिप-लॉक कर लिया. तभी नूर कांपते हुए झड़ गयी. और अपने पैरों को सिकुड़ने  लगी .मैंने सना का चुम्बन छोड़ दोनों हाथों से नूर के बूब्स को पकड़ा और दबाने लगा. वो झड़ चुकी थी.

उसकी सांस तेज़ हो चुकी थी.मेरा भी होने वाला था. मैं अब तेज शॉट मरने लगा थप थप… ठप्प्प ठप्प्प… ठप्प्प….. थाप्प… मेरा निकलने वाला था.मैंने कम्प रही नूर को अपने तरफ मोड़ा. हाइट काम होने से मेरा लंड उसकी नाभि से सत गया.

मैं  उससे चिपक के उसकी नाभि पर मेरे लंड ने एक फवारा छोड़ दिया. (Threesome sex story)

हम दोनों के होठ सटे हुए थे साँसे तेज़ थी मेरा स्पर्म उसके नाभि से होते हुए उसके चिकनी चुत में बह रहा था. नूर अह्ह्ह… बहुत गरम है.. ये तो.में हाँ गरम है हह अब तुम्हारी मम्मी की बारी.हह… सास तेज़ चल रही थी.

सना ने फ्रिज से पानी निकाला और हमे दिया. मैं पानी पि के बेड पे लेट गया. नूर भी मेरे बगल में लेट गयी. सना ने अपनी साड़ी उतारी  और मेरा लंड चूसने लगी. मैं “आअह्ह्ह……वैरी गुड माय बेबी… आह.” मेरा लंड खड़ा होने लगा.

मैंने सना से कहा 69 करते है. वो समझ गयी. अपनी पैंटी उतारी  और अपने बड़े से पंखुड़ी वाली चुत  से मेरे मुँह को धक् लिया.

(Threesome sex story)

सना मेरा लंड चूस रही थी और मैं उनकी  चुत. आह्हः क्या स्वाद था.. नूर अभी भी अपनी सांसे पकड़ रही थी.

सना जी भी आहे भर रही थी  .अब मेरा लंड तैयार था सना के  चुत  में जाने को.

मैंने सना जी को नूर के बगल में लिटा दिया और लंड  को  चुत के मुहाने पे रखा. पहले धीरे-धीरे अंदर बाहर किया.सना जी आँख बंद करके मज़े ले रही थी फिर मैंने लंड को बाहर निकाला  और एक झटके में जड़ तक अपना लंड उसकी चुत में  घुसा दिया. (Threesome sex story)

सना जी “अह्हह्ह्ह्ह कर उठी.अब मैंने शॉट मरना चालू कर दिया. हम मिशनरी पोजीशन में थे. मैं कभी उनके होठ को चूमता कभी गले को कभी बूब्स को दबाता.बहुत मज़ा आ रहा था. बगल में लेटी नूर देख रही थी.

कमरे में “आअह्ह्ह्ह…ुम्मःहःहः… ससससस और थप थप की आवाज़ें आ रही थी.सना जी को चोदने  का सपना पूरा हो रहा था. उनकी बॉडी का नशा और मज़ा ही कुछ और था. साथ में बेटी जो माँ से किसी मामले में कम नहीं थी.

ओह्ह यह सोचकर ही मुरझाया लंड में जान दाल दे रहा था ये मेरा सेकंड टाइम था इसीलिए अभी झड़ने में टाइम था. मैंने पोजीशन बदलने की सोची.मैंने शॉट मारते  हुए कहा “अह्ह्ह… हाह… पोजीशन..…….( थप.. थप… ठप्प ठप्प्प).सना हम्म्म… ऐसे… ही… मज़ा आ रहा है. (Threesome sex story)

आप शॉट मरते रहिये. आठ… उम्म्म… मेरा पानी निकलने वाला है….अह्ह्ह…  ये लो शॉट…..चिल्लाते हुए मुझसे कस के चिपक गयी. वो झड़ रही थी. मैंने शॉट मारना जारी  रखा. तभी सना जी हांफते  हुए बोली “रुकिए… …(मैंने अपने लंड को अंदर धक्का मारा और रुक गया).में क्या… हुआ….हाह?

सना आप बहुत जोर से चोद रहे है …दर्द हो रहा है. मैं झड़ चुकी हु.

मुँह में ले लेती हु. आप बाहर निकालिये….अह्ह्ह. में नहीं मुझे चुत ही मारनी है. सना नूर को ही चोद लीजिये तब.

में ओके. (नूर को) आ जाओ बेटा .नूर ने अपनी चुत मेरे लंड के सामने रख दी. फिंगरिंग करने के कारन सील टूट चुकी थी पर मेरा लंड मोटा होने के कारन अंदर जा नहीं रहा था.मैंने जोर दिया और आधा घुस गया. नूर आँख बंद करके दन्त भींच चुकी थी.

(Threesome sex story)

सना उसके सर को सहला रही थी और मुम्मो को प्यार से दबा रही थी.फिर मैंने  अपने हाथ उसके पीठ से लेकर बैक को जकड़ा अपने होठ को उसके होठ से सताया और जोर का झटका मारा. वो “उम्मम्मम” करके रह गयी.

लंड पूरा अंदर चला गया. नूर को दर्द हुआ. कुछ देर ऐसे ही रहा फिर मैंने झटके मरने शुरू किये… थप… ठप्प्प.साथ में लिप पे किस  करना जारी रखा.20-25 झटको में मेरा और नूर का पानी निकल गया. मैं गलती से नूर के अंदर झड़ गया था.

आगे क्या हुआ? वो नेक्स्ट पार्ट में बताऊंगा.

(Threesome sex story)

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds

Saale Copy Karega to DMCA Maar Dunga