ऑफिस की लड़की को चोदा अपने किराये के रूम पर Part-1

ऑफिस की लड़की को चोदा अपने किराये के रूम पर Part-1

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम अमन है आज में आपको बताने जा रहा हु कैसे मेने “ऑफिस की लड़की को चोदा अपने किराये के रूम पर”

मैं बैंगलोर का रहने वाला हूँ। मैंने Wildfantasy.in की लगभग हर कहानी पढ़ी है। मैं आज अपनी पहली सच्ची कहानी लिख रहा हूँ, उम्मीद है आप सभी को पसंद आएगी। (ऑफिस की लड़की को चोदा)

पहले मैं अपने बारे में बता दूं. मेरी उम्र 23 साल है और मेरा शरीर एक खिलाड़ी की तरह फिट है

यह मेरे रोजाना वर्कआउट की वजह से बना है। मेरा रंग गेहुँआ है और मेरे अच्छे ड्रेसिंग सेंस और दाढ़ी मूछों के कारण कई लड़कियाँ मुझे देखती रहती हैं।

मेरा लंड 6 इंच लंबा और 3 इंच चौड़ा है जो किसी भी औरत के लिए काफी है, ये बात मुझे कई लड़कियों ने खुद बताई है.

मेरे ऑफिस में भी सभी लोग मेरे व्यक्तित्व की तारीफ करते हैं. मुझे रिलेशनशिप आदि में ज्यादा दिलचस्पी नहीं है, मुझे सिर्फ सेक्स करना पसंद है।

यह सेक्सी घटना आज से एक साल पहले की है, जब मैंने एक नई कंपनी ज्वाइन की थी. मैं शुरू से ही किसी लड़की को पटाकर उसे चोदना चाहता था.

और मेरी यह दुआ जल्दी कबूल हुई, तभी उसका आगमन हुआ। मैं उसके बारे में बताता हूं. उसका नाम आशिका है

वो दिखने में गोरी और थोड़ी मोटी सी है। उनकी हाइट करीब 5.5 फीट है. उसके स्तन 32 इंच के बिल्कुल ठोस हैं।

आशिका की बलखाती कमर 32 इंच और गांड 34 इंच है. मैं उसे प्रभावित करना चाहता था इसलिए मैंने उससे धीरे-धीरे बात करना शुरू कर दिया।

पहले फेसबुक पर रिक्वेस्ट भेजी और कुछ ही देर में मैंने उसका व्हाट्सएप नंबर ले लिया और फिर हमारी बातें होने लगीं.

एक दिन हम ऐसे ही बातें कर रहे थे, तभी कुछ ऐसा हुआ कि मैंने उससे उसके स्तनों की फोटो मांग ली. उसने थोड़ा मना किया लेकिन मेरे बार-बार बोलने पर उसने दे दि.

मैं बहुत खुश था। क्या चूचे थे उसके.. बस उन्हें देख कर चूसने का मन हो गया। मैं गर्म होने लगा, अब मुझे हिलना पड़ा.

तो मैंने सोचा कि क्यों न उससे वीडियो कॉल पर अपनी चूत दिखाने को कहा जाए. अगर नहीं मानोगी तो मैं उसके स्तनों को देख कर ही हिला लूंगा. (ऑफिस की लड़की को चोदा)

मैंने उससे रिक्वेस्ट की- प्लीज मुझे अपनी चूत दिखाओ, नहीं तो मेरा लंड नहीं बैठेगा. वो मान गई, उसने फोन किया और बोली- जल्दी देखो, मैं बाथरूम में हूं.

ओह हो… क्या चूत थी उसकी! उसे देख कर ही मुझे उसे चाटने का मन कर रहा था. मैंने उसको थोड़ा और पास से दिखाने को बोला.

उसने फोन का कैमरा आगे कर दिया जिससे मुझे उसकी पूरी चूत अच्छे से दिख गयी. फिर मैंने उससे कहा कि इस पर उंगली रखो और इसे अंदर से चौड़ा करके दिखाओ।

उसने मेरे कहने पर अपनी चूत खोल दी. उसकी गुलाबी चूत अन्दर से इतनी मस्त लग रही थी कि क्या बताऊँ। और मैंने उसे देख कर हस्तमैथुन किया और अपना वीर्य निकाल लिया.

खाना खाने के बाद मैंने आशिका को फोन किया और उससे पूछा कि वो भी गर्म हुई या नहीं?

उन्होंने कहा कि वो ये सब करने से गर्म नहीं होती हैं, वो तभी गर्म होंगी जब ऐसा कुछ असल में होगा.

उसके बाद हम रोज़ कंपनी में ऑफिस की सीढ़ियों पर एक दूसरे के होंठ चूसते तो कभी मे उसके मम्मे दबा देता।

कभी-कभी मैं उसकी ब्रा के अन्दर हाथ डाल कर भी उसके मम्मे दबा देता था। कभी-कभी मैं उसकी पैंटी में हाथ डाल देता और उसकी चूत में उंगली कर देता।

हम ये सब एक हफ्ते से कर रहे थे. अब मैं रुकने वाला नहीं था, बस उसे चोदना था. तभी मेरे मन में उसे चोदने का विचार आया.

मैं उसे ऑफिस के बीच में से अपने कमरे पर ले आया. मैंने मकान मालिक से कहा- यह मेरी बहन है और यह मुझे घर से लाया हुआ सामान देने आई है, थोड़ी देर में चली जाएगी।

जैसे ही हम कमरे में पहुँचे, मैंने कुंडी लगा ली और उस पर टूट पड़ा। हमारे पास ज्यादा समय नहीं था

इसलिए मैंने अन्दर आते ही उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी.

होंठ चूसते चूसते कब मैंने उसके सारे कपड़े उतार कर उसे नंगी कर दिया, मुझे पता ही नहीं चला.

मैंने उसके होठों को चूमा, उसके स्तनों को चूसा, उसके नंगे कूल्हों को दबाया और मसला।

अब वो पूरी तरह गर्म हो चुकी थी, उसकी साँसें तेज़ चल रही थीं जिससे उसकी छाती ऊपर-नीचे हो रही थी। उसका चेहरा भी लाल हो गया था. (ऑफिस की लड़की को चोदा)

अब वो बस मेरा लंड अपनी चूत में डलवाना चाहती थी. तो मैंने अपने कपड़े उतारे, कंडोम लगाया और उसे बिस्तर पर लेटा दिया।

फिर मैंने अपना लंड उसकी नंगी चूत पर रगड़ा और एक ही झटके में पूरा अन्दर डाल दिया.

आप यहां सस्ते दामों पर कॉल गर्ल्स बुक कर सकते है Visit Us:-

उसकी चूत देखने से ही लग रहा था कि ये साली कई बार चुद चुकी है. लेकिन उसकी बहुत दिनों से चुदाई नहीं हुई थी क्योंकि उसकी चूत बहुत टाइट थी.

जैसे ही मैंने लंड डाला तो उसे थोड़ा दर्द हुआ और आह… करके चिल्लाने लगी।

मैंने उसकी चूत में लंड के झटके देने शुरू किए तो वो भी नीचे से अपनी मस्त गांड उठा कर चुदाई का मजा लेने लगी.

इस बीच कभी उसके होंठों को चूमता, कभी उसके स्तनों को चूसता और दबाता।

करीब 10 मिनट की जबरदस्त चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गये. मैंने उसके होंठों को चूमा और बगल में लेट गया।

लेकिन एक बार की चुदाई से मेरा मन कहां भरने वाला था. कुछ ही देर में मैं फिर से चुदाई के लिए तैयार हो गया.

इस बार मैंने सोचा कि बिस्तर पर चोदूंगा तो आवाज होगी, इसलिए मैंने गद्दा नीचे बिछा दिया. इस बार मैं लेट गया और वो मेरे ऊपर आ गई

और अपने हाथों से लंड को एडजस्ट करके अपनी चूत में डालने लगी.

जैसे ही लंड उसकी चूत में गया, उसके मुँह से फिर से सिसकारी निकल गई- सीई … आह … आह!

मैं लेटे हुए उसके स्तन भी दबा रहा था। मुझे बहुत मजा आ रहा था. वो मेरे लंड के ऊपर उछल रही थी और उसके मम्मे गेंद की तरह उछल रहे थे.

दोस्तो, मैं आपको बता नहीं सकता कि वह कितना मनमोहक दृश्य था!

तभी किसी ने मेरे कमरे का दरवाजा खटखटाया. मैंने जल्दी से उसे बाथरूम में भेज दिया और खुद कपड़े पहनने चला गया।

हमारे दरवाजे पर एक नौकर काम कर रहा था। उसने कहा- भाई कह रहा है कि किसी भी लड़की को अपने कमरे में ले जाना मना है

चाहे वो बहन ही क्यों न हो. आप नीचे मिलें. मुझे पता था कि ऐसा कुछ होगा. इसलिए मैंने पहली चुदाई जल्दी निपटा ली. मैंने कहा- ठीक है.

और फिर बाथरूम में चला गया और आशिका वहाँ अपने कपड़े पहन रही थी।

मैंने कहा- सुनो, मेरा लंड अब खड़ा है, इसका पानी निकाल दो। उसने मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और हिलाने लगी.

मैं भी उसके होंठों को चूस रहा था, एक हाथ से उसके मम्मे दबा रहा था और दूसरे हाथ से उसकी चूत में उंगली कर रहा था। आह्ह… हा… क्या मजा आ रहा था.

थोड़ी ही देर में मेरे लंड ने अपना सारा माल आशिका के हाथ में ही छोड़ दिया। उसने हाथ धोये और हम दोनों अपने आप को ठीक ठाक करके ऑफिस चले गये.

रास्ते में उसने कहा- यार अमन, मेरी चूत में दर्द हो रहा है. आपके पास कितना अच्छा औज़ार है! मज़ा आ गया। और इतना कहकर वो मेरे लंड पर अपना हाथ रगड़ने लगी.

“आज तो मजा आ गया!” इतना कह कर उसने रिक्शे में ही मेरे होंठों पर किस कर दी और मैंने भी उसके मम्मे दबा दिये. उन्होंने कहा- मैं संतुष्ट नहीं हूं! (ऑफिस की लड़की को चोदा)

मेरा भी मन नहीं भरा था तो हमने शनिवार को एक होटल बुक करने और उसमें सेक्स करने का सोचा.

दोस्तो, अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे हमने होटल बुक किया और दिन भर सेक्स किया।

कहानी का अगला भाग : ऑफिस की लड़की को चोदा अपने किराये के रूम पर Part-2

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds

Saale Copy Karega to DMCA Maar Dunga