पति का काम बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुदी part -2 | Hindi sex story

पति का काम बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुदी part -2 | Hindi sex story

सबसे पहले तो मैं आप सभी पाठकों का धन्यवाद करना चाहूंगी कि आप लोगों ने मेरी पिछली सेक्सी कहानी
पति का काम बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुदी part -1

इस कहानी को प्यार दिया

अब तक की wild fantasy सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मेरा नाम कंगना है एक अफ्रीकन हब्शी मेरे बिजनेस के लिए एक डील करने वाला था और वो मुझे चोदना चाहता था.

अब आगे:

उस अफ्रीकन क्लाइंट रॉबर्ट ने व्हिस्की के गिलास को होंठों से लगाया और एक चुस्की लेते हुए कहा- देर मत करो डार्लिंग … अब मुझे बिकनी पहन कर दिखाओ.

मैंने टेबल से ब्रा उठायी और

ब्रा पहनने लगी. चूंकि ब्रा छोटी थी, इसलिए ब्रा की डोरी मुझसे बंध नहीं रही थी.

ये देख कर रॉबर्ट खड़ा हुआ और उसने मेरी ब्रा की डोरी बांध दी. इसके बाद मैंने पैंटी उठाई और पहनने लगी. मैंने पैंटी की डोरी दोनों तरफ से बांध दी. अब मैं बिकनी में रॉबर्ट के सामने बिल्कुल तैयार थी. (Hindi sex story)

रॉबर्ट ने पांच मिनट तक मुझसे बिकनी में कैटवॉक करवाया. उसके बाद मैंने रॉबर्ट को सभी अंडरगार्मेंट्स पहन कर दिखाए.

मैंने रॉबर्ट से कहा- सर अब तो डेमो भी हो गया है. … क्या अब हम डील कर लें?
उसने कहा- हां हम डील कर लेते हैं, पर एक शर्त पर … मुझे तुम्हारे साथ रात बितानी है … और तुम्हारे जिस्म के साथ खेलना है. मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ.

मैं रॉबर्ट की बात सुनकर दंग रह गयी. मैंने रॉबर्ट से कहा- सर, मैं यह नहीं कर सकती, हमारी बात सिर्फ डेमो तक ही की हुई थी.
रॉबर्ट बोला- वो सब मैं नहीं जानता. अब हमारी डील तब ही होगी, जब तुम मेरे साथ रात बिताने को राजी हो जाओगी.

मैंने रॉबर्ट को बहुत मनाने की कोशिश की, पर वो नहीं माना. फिर मुझे रोहन की बात याद आयी कि अगर हमने डील नहीं की, तो हमारा बड़ा नुकसान हो जाएगा.

मैं तो पहले ही ये सब सोच समझ चुकी थी कि रॉबर्ट मुझे चोदे बिना नहीं मानेगा. इसलिए मैं उससे चुदने के लिए राज़ी हो गयी.
मैंने सोचा कि बस थोड़ी देर की बात है … रॉबर्ट मुझे एक बार चोदेगा और डील पर अपने सिग्नेचर कर देगा. अभी 9 बज रहे हैं. मैं थोड़ी देर में फ्री हो जाउंगी, ज्यादा कुछ नहीं होगा. (Hindi sex story)

पर मुझे बहुत डर लग रहा था क्योंकि वो एक अफ्रीकन था. इसके पहले मैं नौ इंच तक का लंड अपनी चुत में कई बार ले चुकी थी. मगर मुझे मालूम था कि अफ्रीकन लोगों के लंड लम्बे होते हैं.
मैंने हिम्मत करके रॉबर्ट से कहा- ठीक है सर … मैं आपके साथ रात बिताने के लिए रेडी हूँ.

मेरी यह बात सुनकर रॉबर्ट बहुत खुश हो गया. मैं अभी रॉबर्ट के सामने सिर्फ एक छोटी से ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी में थी.

उसने मेरी हामी सुनकर कहा- तो दो पैग बनाओ और आज की डील के लिए हम लोग चियर्स करते हैं.

मैंने रेडलेबल व्हिस्की की बोतल उठाई और दो लार्ज पैग बना लिए. मुझे खुद भी इस समय व्हिस्की की बड़ी जरूरत हो रही थी. हम दोनों जाम टकराए और दारू का मजा लेने लगे. जल्द ही एक एक पैग खत्म हो गया. इस बीच एक सिगरेट भी मेरी उंगलियों में मुझे सुख दे रही थी. (Hindi sex story)

फिर रॉबर्ट खड़ा हुआ और मेरे पास आकर मुझे अपनी गोद में उठा लिया. वो मुझे बेडरूम में ले जाने लगा.

रॉबर्ट और मैं बेडरूम में आ गए. रॉबर्ट ने मुझे अपनी गोद से नीचे उतारा और बेड पर लेटा दिया. मेरे साथ ही रॉबर्ट भी बेड पर आ गया. रॉबर्ट मेरे पास आया और मेरे गुलाबी होंठों पर उसने अपने काले होंठ रख दिए.
मुझे पहले बहुत अजीब लगा.

रॉबर्ट मेरे ऊपर चढ़ गया और मेरे होंठों को जबरदस्ती चूमने लगा. रॉबर्ट मेरे होंठों को चूसे जा रहा था, पर मुझे रॉबर्ट के साथ यह सब करने में कोई दिलचस्पी नहीं थी. रॉबर्ट मुझे लगभग दस मिनट तक किस करता रहा. उसके बाद रॉबर्ट ने मुझे उल्टा किया और मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और मेरे कंधों से ब्रा उतार कर नीचे फेंक दी. फिर रॉबर्ट ने मेरी पैंटी भी उतार कर नीचे गिरा दी.

अब मैं बिल्कुल नंगी थी और उसके लंड को अपनी चुत में लेने के लिए राजी हो गई थी. (Hindi sex story)

मुझे पूरी नंगी करने के बाद रॉबर्ट मेरे ऊपर फिर से चढ़ गया. अब रॉबर्ट और मेरा फोरप्ले शुरू हो गया. रॉबर्ट मुझे इधर-उधर किस करने लगा और मैं भी गर्म होने लगी थी.

रॉबर्ट मेरे गले के पीछे किस किए जा रहा था और इधर-उधर भी मुझे चूम रहा था. कभी वो मेरे पेट पर, कभी सीने पर, कभी पीठ पर लगभग 20 मिनट हमारा फोरप्ले चला. उसके बाद रॉबर्ट मेरे मम्मों को चूसने और मसलने लगा. मैं जोर-जोर से आहें भरने लगी. मैंने उसको गरम करना शुरू कर दिया था.

‘आह आह आह सर सर … प्लीज धीरे आह आह सर … उफ़ उफ़ उफ़ आह.’

रॉबर्ट ने मेरी एक ना सुनी, उसने मेरे पूरे मम्मों को लाल कर दिए और मेरे दोनों मम्मों के निप्पलों को चूस चूस कर एकदम कड़क कर दिया था. इससे मेरे चूचे एकदम टाइट हो गए थे.

थोड़ी देर बाद रॉबर्ट ने मुझसे कहा- अब तुम मेरे कपड़े उतारो.

रॉबर्ट बेड पर लेट गया और मैं रॉबर्ट के ऊपर आ गयी. मैंने रॉबर्ट की शर्ट के बटन खोले और शर्ट उतार दी. इसके बाद मैंने उसकी जींस का हुक खोला और उसकी मोटी जांघों से उसकी जींस को नीचे उतार दिया. (Hindi sex story)

अब रॉबर्ट सिर्फ एक छोटी सफ़ेद फ्रेंची में था. उसमें उसका लंड पूरी तरह से खड़ा हो चुका था. मैं उसके लंड को देख कर बहुत हैरान थी. उसका लंड भीमकाय था. उसका तना हुआ लंड देख कर मुझे कुछ डर भी लग रहा था.

तभी रॉबर्ट ने अपनी वासना में डूबी हुई आवाज में घरघराते हुए मुझसे कहा- हम्म … अब मेरी फ्रेंची भी उतार दो डार्लिंग … जल्दी करो प्लीज़.

मैंने रॉबर्ट की फ्रेंची जैसे ही नीचे की, मैं एकदम दंग रह गयी. उसका लंड एकदम काला था और वो लगभग 10-11 इंच लम्बा था. उसका लंड बहुत ही ज्यादा मोटा था, जैसा कि आम अफ्रीकन लोगों का मैंने अब तक की ब्लू-फिल्मों में देखा था.

मैं उसके मोटे और लम्बे लंड को देख कर अपनी चुत का हाल सोच कर घबरा रही थी.

तभी रॉबर्ट ने अपने लंड को तुनकी देते हुए मुझसे कहा- मेरे लंड को चूसो और मुझे मजा दो.
मैंने रॉबर्ट से कहा- सर प्लीज मैं यह नहीं कर पाऊंगी.

पर कामातुर हो चुके रॉबर्ट ने मेरे बाल पकड़े और मेरी गर्दन लंड के पास ले आया. मेरे होंठ उसके लंड को टच होने लगे, जिसमें से मुझे बहुत नापसंद आने वाली महक आ रही थी. मैंने उसके लंड को हाथ में लिया. उसका लंड मेरी हथेली में नहीं आ रहा था. मैंने उसके लंड के ऊपर से खाल हटाई और उसका टोपा बाहर निकाला. (Hindi sex story) फिर मैंने रॉबर्ट के लंड को मुँह में ले लिया.

जैसे ही मैंने उसका लंड अपने मुँह में लिया मेरे मुँह का स्वाद एकदम ख़राब हो गया. मगर धीरे धीरे मैंने उसका पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया और उसे चूसने लगी. कुछ ही पलों में मैं लंड की महक से रूबरू हो गई और रॉबर्ट के लंड की अच्छे से चुसाई करने लगी. अब रॉबर्ट भी आहें भर रहा था.

थोड़ी देर बाद रॉबर्ट ने मेरी गर्दन को पकड़ कर लंड पर धक्का देने लगा. रॉबर्ट अपनी गांड उठा-उठा कर जोर-जोर से मेरे मुँह में लंड के धक्के लगा रहा था. उसका लंड मेरे गले के अंतिम छोर तक जाने लगा था. चूंकि मुझे लंड चूसने की आदत थी, इसलिए मैं अपने गले के आखिरी छोर तक लंड चूसने में अभ्यस्त थी. मगर इस हब्शी के लंड ने मुझे पागल कर दिया था. मेरी आंखें बाहर आने लगी थीं और उसका लंड मेरी सांसें रोक रहा था. (Hindi sex story)

लगभग दस मिनट बाद रॉबर्ट मेरे मुँह में ही झड़ने वाला हो गया था. मेरी सांसें फूल रही थीं और मैं जोर-जोर से हांफ रही थी. थोड़ी देर बाद रॉबर्ट मेरे मुँह में ही झड़ने लगा, उसने मेरा पूरा मुँह अपने पानी से भर दिया और लंड भी अन्दर ही अड़ा दिया. मुझे सांस नहीं आ रही थी और मुझे मुझे रॉबर्ट का सारा पानी पीना पड़ा. उसके लंड के पानी का स्वाद बहुत कसैला सा था. उसमें अजीब सी महक भी आ रही थी.

उसके बाद रॉबर्ट ने अपना लंड बाहर निकाला और मुझे बेड पर लेटा दिया. मैं जोर-जोर से सांसें लेते हुए अपनी हालत अभी ठीक ही करने में लगी थी कि तभी उसने मेरी दोनों टांगें खोल दीं और मेरी चुत के पास आ गया.

अनेकों आदमियों के लंड से चुदने के बाद भी मेरी चुत अभी तक बहुत टाइट है क्योंकि मैं उसकी बहुत केयर करती हूँ. (Hindi sex story)

रॉबर्ट मेरी चुत के पास आ गया और मेरी चुत पर अपने होंठ रख कर मेरी चुत को चाटने लगा. उसकी जीभ के स्पर्श को अपनी चुत पर पाते ही मैं मत होने लगी. मुझे उसकी जीभ अपनी चुत पर बड़ी लज्जत दे रही थी. (Hindi sex story)

रॉबर्ट मेरी चुत को जोर-जोर से चाट रहा था और मैं उसे भड़काने के लिए जोर-जोर से चिल्ला रही थी ‘आह आह आह्ह रॉबर्ट सर आह आह्ह आह्ह उम्म.’

रॉबर्ट अपनी दो उंगलियां मेरी चुत में डाल कर अन्दर बाहर करने लगा. मैं चीखने और आहें भरने लगी ‘आहें आह उफ़ आह.’
मुझे मजा भी आ रहा था मगर मुझे बेहद जलन भी होने लगी थी.

रॉबर्ट ने मेरी चुत को लगभग 20 मिनट चाटा. उसके बाद मैं भी अपनी चरम सीमा पर आ गई … और रॉबर्ट के मुँह पर ही झड़ने लगी. रॉबर्ट ने मेरा सारा पानी चूस लिया.
मैं निढाल होकर बिस्तर पर पड़ी रही. (Hindi sex story)

कोई दो मिनट बाद रॉबर्ट ने मुझे बेड से उठाया और खुद लेट गया. उसने मुझसे फिर से लंड चूसने को कहा. (Hindi sex story)

मैंने उसका लंड मुँह में लिया और चूसने लगी. उसका पूरा लंड मेरे मुँह में था और थोड़ी देर चूसने के बाद रॉबर्ट का लंड खड़ा हो गया. हमारा पहले राउंड शुरू होने वाला था. मेरी चुत चुदाई की बारी आ गई थी.

रॉबर्ट बेड पर सीधा लेट गया और उसने मुझे अपने ऊपर बुला लिया. मैंने उसके लंड को अपने हाथ में लिया और उसके लंड पर धीरे धीरे बैठने लगी. जैसे ही मैं उसके लंड पर बैठी, उसके लंड का टोपा मेरी चुत में चला गया और मेरी चीख निकल गयी ‘आह आह्ह्ह्ह सर…’

किसी तरह से मैं उसके लंड पर पूरी तरह से बैठ गयी. उसका लम्बा लंड अब मेरे अन्दर आने लगा था. मैं एक दो बार उसके लंड पर उछली और उसका लंड पूरा मेरी चुत में समा गया. मेरी आंखों में से आंसू निकलने लगे … क्योंकि आज तक मैंने इतना मोटा लंड अपनी चुत में नहीं लिया था. (Hindi sex story)

फिर कुछ पल उसके लम्बे लंड पर बैठने के बाद मैं हल्के से हिली और लंड को चुत में अच्छे से सैट कर लिया. मेरी बच्चेदानी में उसके लंड का सुपारा लगा हुआ था.(Hindi sex story) मेरी बच्चेदानी तक अभी तक किसी का लंड इतने देर तक नहीं रहा था. मैंने किसी तरह उसके हब्शी लंड पर उछलना शुरू कर दिया.

कुछ ही पलों बाद मैं रॉबर्ट के लंड पर जोर-जोर से उछल रही थी और ‘आह आह आह..’ की आवाजें निकाल रही थी.

मुझे मजा आने लगा था मगर मैं अपनी योजना के अनुसार उसके सामने चीखे जा रही थी ‘आह आह फ़क मी सर … आहह आह आह सर.’

मेरी आवाजों से रॉबर्ट को बहुत मजा आ रहा था और मुझे मेरी चुत में बहुत दर्द हो रहा था. आज मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं एक मोटे खीरे पर बैठ कर उछल रही हूँ.

रॉबर्ट ने मेरे चूतड़ों पर हाथ लगा कर मुझसे तेजी से उछलने का कहा. तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी.

मेरी चुत में रॉबर्ट का मोटा लंड सटासट चल रहा था. मैं जोर-जोर से चीख रही थी. मेरी आहें रूम में गूंज रही थीं ‘आह सर फ़क मी  … बहुत अन्दर तक जा रहा है … आह्ह आह आह’ (Hindi sex story)

अब तक मेरी चुत खुल चुकी थी. रॉबर्ट का लंड मेरी बच्चेदानी तक चोट कर रहा था और मुझे बहुत दर्द दे रहा था.

रॉबर्ट ने मुझे काफी देर तक चोदा और उसके बाद वो भी अपनी चरम सीमा पर आ गया. मैं भी अपनी चरम सीमा पर आ गयी. हम दोनों एक साथ ही झड़ने लगे. (Hindi sex story) रॉबर्ट ने अपना माल सारा मेरी चुत में ही निकाल दिया और मेरी पूरी चुत रॉबर्ट के माल से भर गयी.

उसके बाद मैं उसके लंड से नीचे उतरी और बेड पर लेट गयी. रॉबर्ट फिर मेरे ऊपर आया और मुझे चूमने चाटने लगा.

उसने मुझे एक लार्ज पैग बना कर दिया और एक खुद भी ले लिया. मुझे इस वक्त व्हिस्की बहुत आराम दे रही थी. मैंने जल्दी से गिलास गटक लिया और लम्बी सांसें भरने लगी.

थोड़ी देर बाद व्हिस्की ने कमाल दिखाया और मैं फिर से गर्म हो गयी. उसने अपना लंड फिर से मेरे मुँह में दे दिया और मैंने उसका लंड दुबारा चूसा. इस बार मुझे उसका लंड पहले के मुकाबले अच्छा लगने लगा था.

थोड़ी देर चूसने के बाद उसका लंड फिर से खड़ा हो गया. अब हमारा दूसरा राउंड शुरू हुआ. (Hindi sex story)

रॉबर्ट ने मुझे घोड़ी बनाया और अपना लंड मेरी चुत पर सैट करके एक तेज झटका दे मारा. उसका आधा लंड मेरी चुत में उतर गया.
मेरी चीख निकल गयी- आह आह सर … स्लो. (Hindi sex story)

मगर रॉबर्ट ने मेरी एक न सुनी. उसने ताबड़तोड़ दो तीन झटके और मारे. अब उसका पूरा लंड मेरी चुत में आ गया था.

फिर रॉबर्ट ने धक्के मारने शुरू कर दिए और मैं आहें भरने लगी. ‘आह आह्ह आह सर फ़क मी सर…’

धीरे धीरे रॉबर्ट मुझे जोर-जोर से चोदने लगा था. उसे भी जोश आने लगा था. रॉबर्ट मुझे अपनी कुतिया बना कर जोर-जोर से चोद रहा था और मेरी गांड पर जोर-जोर से थप्पड़ भी मार रहा था. इससे मुझे बहुत दर्द भी हो रहा था, मगर उसके मोटे लंड से मुझे लज्जत भी मिलने लगी थी. (Hindi sex story)

मैं कामुक आवाजें निकाल रही थी. रॉबर्ट मेरे बाल पकड़ कर लगातार धक्के मार रहा था. इस बार रॉबर्ट ने मुझे लगभग बीस मिनट तक चोदा और उसके बाद वो अपनी चरम सीमा पर आ गया. मैं भी बहुत थक चुकी थी.

फिर रॉबर्ट ने अपना लंड मेरी चुत से बाहर निकाला और मैंने उसके लंड को अपने हाथ में लिया. मैंने लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी. कोई पांच मिनट लंड चुसाई के बाद रॉबर्ट ने अपना दुबारा माल मेरे मुँह में निकाल दिया. मैंने उसके लंड रस को पूरा पी लिया. उसके बाद रॉबर्ट बेड पर लेट गया और मैं भी लेट गई. (Hindi sex story)

फिर कुछ देर बाद रॉबर्ट ने मुझसे कहा कि अब तुम दुबारा घोड़ी बन जाओ … मैं तुम्हारी गांड मारूंगा.
रॉबर्ट की ये बात सुनकर मैं डर गयी और उसके सामने हाथ जोड़ने लगी. मैंने रॉबर्ट से कहा- सर प्लीज आप मेरी चुत को ही चोद लो … आपके लंड से मेरी गांड में बहुत दर्द हो जाएगा. आपका लंड बहुत मोटा है.

पर रॉबर्ट ने मेरी एक बात ना सुनी.

दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी चुत चुदाई की कहानी पढ़ने में मजा आ रहा होगा. इस सेक्स कहानी के अगले भाग में मेरी गांड चुदाई की कहानी भी आपके लंड खड़ा कर देगी और उसके बाद डील का क्या हुआ, इसे भी आपको लिखूंगी. आप मुझे मेल भेजते रहिएगा.
[email protected]
कहानी जारी है.

(Hindi sex story)

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds